अगले हफ्ते 8 अरब हो जाएगी विश्व की जनसंख्या, जानें लोगों की उम्र पर क्या होगा असर


हाइलाइट्स

विश्व की जनसंख्या को लेकर संयुक्त का चौंकाने वाला बयान
कुछ ही दिनों में 8 अरब हो जाएगी विश्व की जनसंख्या
संयुक्त राष्ट्र ने लगाया लोगों की आयु बढ़ने का अनुमान

संयुक्त राष्ट्र. विश्व की जनसंख्या अगले हफ्ते 8 अरब हो जाएगी. संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि यह मानवता के लिए मील का पत्थर होगा. संयुक्त राष्ट्र के जनसंख्या विभाग ने कहा है कि आगे आने वाले दशकों में जनसंख्या बढ़ती जाएगी. साल 2050 तक व्यक्ति की औसत आयु बढ़कर 77.2 साल हो जाएगी.
1950 में विश्व की जनसंख्या 2.5 अरब थी, जो अब तीन गुने से ज्यादा हो जाएगी. संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि लोगों का जीवन बढ़ेगा और लोग बच्चे पैदा करने की उम्र में प्रवेश करते जाएंगे. इस तरह जनसंख्या संयुक्त राष्ट्र के अनुमान के मुताबिक होगी. संयुक्त राष्ट्र का अनुमान है कि साल 2030 तक वैश्विक जनसंख्या 8.5 अरब हो जाएगी.

अनुमान के मुताबिक, साल 2050 तक वैश्विक जनसंख्या 9.7 अरब और साल 2080 तक 10.4 अरब हो जाएगी. संयुक्त राष्ट्र के जनसंख्या निधि विभाग के रेचल स्नो ने कहा कि 1960 में एक उच्च स्तर तक आने के बाद विश्व की जनसंख्या में अचानक गिरावट देखने को मिली. साल 2020 में यह एक फीसदी से नीचे थी. साल 2050 तक यह आंकड़ा प्रजनन दर गिरने के चलते 0.5 फीसदी तक गिर सकता है.  साल 2021 में एक महिला के जीवनभर की औसत प्रजनन दर 2.3 फीसदी थी.  यह 1950 के मुकाबले 5 फीसदी गिर गई. संयुक्त राष्ट्र के अनुमान के मुताबिक, साल 2050 तक एक महिला की जीवनभर की औसत प्रजनन दर 2.1 हो जाएगी.

2050 तक व्यक्ति की औसत उम्र 77.2 साल हो जाएगी
खास बात यह है कि इन सबके बीच लोगों की आयु बढ़ने का भी अनुमान है. साल 2019 में व्यक्ति की औसत उम्र 77.2 थी, यह साल 1990 के मुकाबले 9 साल ज्यादा है. संयुक्त राष्ट्र का अनुमान है कि साल 2050 तक व्यक्ति की औसत उम्र 77.2 साल हो जाएगी. इस तरह प्रजनन दर में गिरावट के साथ-साथ लोगों की उम्र साल 2022 में 65 साल से दस फीसदी बढ़ जाएगी और साल 2050 तक यह 16 फीसदी बढ़ जाएगी. इसका सीधा असर मजदूरों और राष्ट्रीय पेंशन सिस्टम पर पड़ेगा.

इन देशों में होगी बेतहाशा जनसंख्या वृद्धि
हालांकि, वैश्विक जनसंख्या में होने वाले इजाफे के दौरान बड़ी क्षेत्रीय असमानताएं भी होंगी. मसलन, संयुक्त राष्ट्र का अनुमान है कि साल 2050 तक होने वाली जनसंख्या वृद्धि का आधे से ज्यादा हिस्सा महज 8 देशों से होगा. इनमें डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कॉन्गो, इजिप्ट, इथियोपिया, भारत, नाइजीरिया, पाकिस्तान, फिलीपींस और तंजानिया में जनसंख्या वृद्धि होगी.

Tags: World news, World population



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here