अफगानिस्तान में महिला एंकर के समर्थन में आए पुरुष सहकर्मी, चेहरे ढककर पढ़ा न्यूज


नई दिल्ली. अफगानिस्तान में महिला एंकरों के साथ एकजुटता प्रदर्शित करते हुए टेलीविजन में काम करने वाले उनके पुरुष सहकर्मी भी विरोध स्वरूप पूरे चेहरे को ढक कर आने लगे हैं. इससे पहले क्रूर तालिबानी शासन ने टीवी पर महिलाओं को चेहरे ढककर आने का फरमान जारी किया था. इस महीने की शुरुआत में अफगानिस्तान के सुप्रीम लीडर हबीतुल्ला अखुंदजदा (Hibatullah Akhundzada) ने अपना फरमान सुनाते हुए कहा था कि सार्वजनिक स्थानों पर महिलाएं पूरे शरीर को ढक कर रखे. इसके बाद महिलाओं ने तो बुर्का पहनना शुरू कर दिया लेकिन अफगानिस्तानी न्यूज चैनल में महिला एंकरों ने बिना चेहरे को ढके न्यूज पढ़ना जारी रखा. उनकी ये नाफारमानी उस समय भारी पड़ गई जब चैनल प्रबंधकों ने महिला एंकरों से कहा कि या तो वे चेहरे ढके या नौकरी से निकल जाए.

इसके बाद महिला एंकरों को मजबूरी में अपना पूरा चेहरा भी ढकना पड़ा. अब इन महिलाओं के साथ एकजुटता का प्रदर्शन करते हुए उनके पुरुष सहकर्मी भी विरोध स्वरूप चेहरे को ढक कर न्यूज पढ़ने लगे हैं. ट्विटर पर उनके लिए फ्री हर फेस हैशटैग के साथ अभियान चलाया जा रहा है.

टोलो न्यूज के स्टाफ मेंबर चेहरे ढक कर एडिटोरिय मीटिंग में आए
अफगानिस्तान की इन महिला एंकरों के साथ एकजुटता के प्रदर्शन करते हुए आज कई इंटरनेशनल न्यूज के पत्रकारों ने भी पूरे चेहरे को ढक कर इन महिलाओं का समर्थन किया. कई संगठनों को पुरुष पत्रकारों ने इसके लिए फ्री हर फेस अभियान चलाया. ट्विटर पर फोटो डालकर इनके साथ एकजुटता प्रदर्शित की. अफगानिस्तान के एक पत्रकार सियर सिरत ने टोलो न्यूज में काम करने वाले पुरुष सहकर्मियों की चेहरे ढकी तस्वीर को पोस्ट करते हुए लिखा, टोलो न्यूज के स्टाफ मेंबर ने एडिटोरियल मीटिंग में तालिबान द्वारा महिलाओं पर थोपे गए हूक्म के विरोध में चेहरे को ढक कर साहसिक काम किया है. पिछले सप्ताह टीवी पर आने वाली महिला एंकर और रिपोर्टर को पूरा चेहरा ढककर आने का फरमान सुनाया गया था. उन्होंने एक दूसरे ट्वीट में लिखा है कि अपने सहकर्मियों के साथ बहादुर अफगान महिलाओं के समर्थन में.

अंतरराष्ट्रीय न्यूज एजेंसियों का भी समर्थन
वहीं अंतरराष्ट्रीय न्यूज संस्थान डोयचे वेले के दारी और पश्तो सर्विस में काम करने वाले पत्रकारों ने भी अफगानिस्तान महिला एंकरों के समर्थन में चेहरे ढककर विरोध प्रदर्शन किया. डोयचे वेले ने ट्वीट कर लिखा, चूंकि तालिबान ने अफगान महिला एंकरों को फेस कवर कर न्यूज पढ़ने का फरमान दिया है, इसलिए डोयचे वेल दारी और पश्तो सर्विस के पत्रकारों ने महिलाओं के साथ एकजुटता का प्रदर्शन करने के लिए ग्रुप फोटो खिंचवाया है. इसमें पुरुष सहकर्मी मास्क पहनकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. आयरलैंड के आरटीन्यूज के डाइरेक्टर जॉन विलियम ने भी ट्वीट किया है. उन्होंने लिखा है, तालिबान ने अफगान महिलाओं को टीवी पर पूरा चेहरे ढक कर आने का फरमान दिया है. ये वही लोग हैं जो लड़कियों को स्कूल जाने से रोक रहे हैं. हम अफगानिस्तान के अपने दोस्त के समर्थन में खड़े हैं. तालिबान से मांग कर कर रहे हैं कि वह महिलाओं के चेहरे को मुक्त करें.

Tags: Afghanistan, Taliban, Woman



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here