अमेरिका को आंख दिखाने वाला चीन, शेख हसीना की एक घुड़की से डर गया, शर्मिंदगी के मारे बदली यात्रा की तारीख


Wang Yi- India TV Hindi News
Image Source : AP
Wang Yi

Highlights

  • वांग यी तय तारीख को नहीं जाएंगे बांग्लादेश
  • शेख हसीना की एक घुड़की से डर गया चीन
  • शर्मिंदगी के मारे बदली यात्रा की तारीख

China News: ताइवान के मुद्दे पर अमेरिका से भिड़ने वाला चीन इन दिनों बांग्लादेश की एक घुड़की की वजह से पूरी दुनिया के सामने शर्मिंदा हो गया है। यहां तक की बांग्लादेश की शेख हसीना सरकार ने चीनी विदेश मंत्री वांग यी को अपनी यात्रा की तारीख तक बदलने पर मजबूर कर दिया है। अब ऐसे में सवाल उठ रहा है कि जिस देश को बांग्लादेश जैसा देश हड़का दे रहा है वह दुनिया के सुपर पावर अमेरिका को कैसे टक्कर देगा। दरअसल, चीन के विदेशमंत्री वांग यी अगस्त में बांग्लादेश के दौरे पर जाना चाहते थे, इसके लिए उन्होंने तारीख भी तय कर ली, लेकिन बांग्लादेश सरकार से इस बारे में कोई बातचीत नहीं की।

शायद चीन को लगा होगा कि वह इतना ताकतवर देश है कि उसे बांग्लादेश कहां कुछ कह पाएगा। लेकिन जब चीन ने अचानक अपने विदेश मंत्री के बांग्लादेश दौरे की बात शेख हसीना सरकार से कही तो बांग्लादेश सरकार ने इस पर दो टूक जवाब देते हुए नाराजगी जाहिर कर दी। शेख हसीना सरकार ने इस यात्रा पर खुले तौर से आपत्ति जताई। जिसके बाद चीनी विदेश मंत्री को अब अपनी यात्रा की तारीखें बदलनी पड़ी हैं। वांग यी इससे पहले 2017 में बांग्लादेश के दौरे पर गए थे। 

बांग्लादेश ने ऐसा क्यों किया?

बांग्लादेश ने ऐसा करने के पीछे की वजह बताई है कि उसके विदेश मंत्री एके अब्दुल मोमेन का न्यूयॉर्क और कंबोडिया का दौरा पहले से निर्धारित था, इसलिए वह चीनी विदेश मंत्री को समय नहीं दे सकते थे। हालांकि जानकार बताते हैं कि बांग्लादेश सरकार के ऐसा करने के पीछे की एक वजह ये भी हो सकती है कि वह अमेरिका को बता सके कि उसके लिए चीन से पहले अमेरिका है। अब बांग्लादेश ने चीनी विदेशमंत्री का दौरा 7 से 8 अगस्त के बीच निर्धारित किया है। 

ताइवान के मुद्दे पर चीन अमेरिका आमने सामने

चीन इस वक्त खुद को दुनिया के सामने अमेरिका से बड़ा साबित करने की कोशिश कर रहा है। इसीलिए जब अमेरिका की प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैंसी पेलोसी की ताइवान यात्रा की बात आई तो उसने अमेरिका को कड़ी चेतावनी दी। हालांकि उसके बाद भी पेलोसी ताइवान गईं  और चीन कुछ नहीं कर पाया। ये जरूर है कि चीन ने अब मीलिट्री एक्शन की बात कही है। हालांकि वह मीलिट्री एक्शन कहां करेगा इस पर कुछ भी साफ नहीं है। 

Latest World News





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here