इस देश में अगर आप सिंगल हैं और आपने सेक्स कर लिया तो समझिए आप तो गए


Couple hugs in Public- India TV Hindi
Image Source : PIXABAY
Couple hugs in Public

Highlights

  • नवंबर 2022 में होना है फीफा विश्वकप
  • क़तर कर रहा है इस विश्वकप की मेजबानी
  • विदेशी मेहमानों के लिए जारी की हैं गाइडलाइन्स

Qatar: यह साल फुटबाल प्रेमियों के लिए बड़ा ही रोमांचक है। क्योंकि इस साल नवंबर में फीफा विश्व-कप का आयोजन होने वाला है। यह आयोजन अरब देशों में से एक क़तर में हो रहा है। इस दौरान यहां बड़ी संख्या में दुनिया भर के फुटबॉल के दीवाने पहुंचेंगे। जो अपने पसंदीदा खिलाडियों और टीमों का उत्साह बढ़ाएंगे। 

वहीं इसी बीच कतर की सरकार ने कड़े लहजे में कह दिया है कि आप हमारे यहां आ रहे हैं, आइए आपका हार्दिक स्वागत है। लेकिन आपको हमारे कानूनों का पालन करना होगा। आपका मेहमान होना आपको यहां के कानूनों में कोई रियायत नहीं दिलाएगा। सरकार ने साफ कर दिया है कि विदेशी मेहमानों को इस देश के सख्त कानूनों का पालन करना होगा। यहां की पुलिस ने बताया है कि गैर पति-पत्नी कपल को सेक्स करने पर 7 साल तक की जेल हो सकती है। इसके अलावा भी कतर सरकार की ओर से कई दूसरे कड़े कानून लागू किये गए हैं। जिसका पालन करना पश्चिमी देशों आने वालों के लिए बड़ा ही मुश्किल भरा हो सकता है।

समलैंगिकता और सिंगल्स का सेक्स करना अपराध

भारत में सुप्रीम कोर्ट के द्वारा समलैंगिकता को मान्यता दे दी गई है। लेकिन कतर में यह गैरकानूनी है। गौरतलब है कि क़तर में इस्लामी सरिया कानून लागू है। जिसके तहत सिगंल्स का आपस में सेक्स करना बड़ा अपराध है। साथ ही समलैंगिता के लिए भी यहां सख्त सजा का नियम है। ‘डेली स्टार’ की एक रिपोर्ट में कतर पुलिस के हवाले से बताया गया है कि ऐसे अपराधों के लिए विदेशी नागरिकों को भी 7 साल की जेल हो सकती है। गैर पति-पत्नी कपल का आपसी सहमति के बावजूद भी सेक्स करना क़ानूनी अपराध माना जाएगा और यहां के कानून के तहत आपको अपराधी मानकर सजा दी जाएगी।

अलग हैं सरनेम तो होटल में नहीं मिलेगा एक रूम

इसके साथ ही क़तर ने कई और तरह की भी पाबंदियां लगाई हैं। कतर में फुटबॉल मैच के बाद पार्टी करने और शराब पीने पर भी बैन रहेगा। साथ ही अगर दो स्त्री-पुरुष के सरनेम एक जैसे नहीं हैं। तो उन्हें होटल में एक साथ कमरा नहीं दिया जाएगा। एक साथ कमरा लेने के लिए उन्हें यह साबित करना पड़ेगा कि वो पति-पत्नी ही हैं।

फीफा वर्ल्ड कप के मुख्य अधिकारी नासिर का कहना है कि ‘खुले में रोमांस करना कतर की संस्कृति का हिस्सा नहीं है, इसलिए हम अपने यहां आने वाले विदेशी मेहमानों को इसकी अनुमति नहीं दे सकते।’ साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि फीफा वर्ल्ड कप देखने आने वाले फुटबॉल प्रेमियों की सुरक्षा उनकी पहली चिंता है। और यह सब कदम उनकी ही सुरक्षा के लिए उठाए जा रहे हैं।

सख्त कानून के लिए जाने जाते हैं अरब देश

आपको बता दें कि कतर एकमात्र ऐसा देश नहीं है, जहां इस तरह के कठोर नियम लागू हैं। अरब देशों में ज्यादातर सेक्स को लेकर सख्त नियम हैं। इन अरब देशों में सरिया कानून माना जाता है। सरिया कानून  में शादी से पहले और पति या पत्नी के अलावा किसी और के साथ सेक्स बड़ा जुर्म माना जाता है। इसके लिए मिडिल ईस्ट के अलग-अलग देशों में कोड़े मारने से लेकर जेल और सजा ए मौत तक की सजा दी जाती है।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here