काबुल के शिक्षा केंद्र में फिदायीन हमले में 46 लड़कियों समेत 53 की मौत, UN ने जारी किया आंकड़ा


53 killed including 46 girls in Suicide attack in Kabul- India TV Hindi News

Image Source : AP
53 killed including 46 girls in a Suicide attack in Kabul

Highlights

  • काबुल के शिक्षा केंद्र में हुआ था आत्मघाती हमला
  • संयुक्त राष्ट्र ने अटैक में मौत के जारी किए आंकड़े
  • धमाके के वक्त शिक्षा केंद्र में 300 छात्र थे मौजूद

Kabul Suicide Attack: अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में एक आत्मघाती हमलावर ने शिया बहुल इलाके में एक शिक्षा केंद्र पर शुक्रवार को हमला किया था। संयुक्त राष्ट्र ने इसको लेकर जानकारी दी है कि 30 सितंबर को काबुल में हुए आत्मघाती बम विस्फोट में 46 लड़कियों और महिलाओं सहित कम से कम 53 लोग मारे गए थे। इससे पहले, ग्राउंड रिपोर्टों में दावा किया गया था कि इस हमले में19 लोग मारे गए थे।

यूएन के आकंड़े के अनुसार सौ से ज्यादा घायल

संयुक्त राष्ट्र मिशन ने ट्वीट किया, “काबुल के हजारा क्वार्टर में शुक्रवार को क्लास रूम में हुए बम विस्फोट से हताहतों की संख्या में और वृद्धि हुई है। इसमें 53 की मौत और कम से कम 110 घायल हैं। हमारी मानवाधिकार टीम अपराध का दस्तावेजीकरण कर रही है। इनकार और संशोधनवाद का मुकाबला करने के लिए तथ्यों की पुष्टि करके विश्वसनीय डेटा स्थापित किया जा रहा है।”

धमाके के वक्त शिक्षा केंद्र में 300 छात्र थे मौजूद
स्थानीय खबरों के अनुसार, काबुल के पश्चिम में शहीद मजारी रोड पर पुल-ए-सोखता क्षेत्र के पास हुए एक और विस्फोट के रूप में उसी दिन मरने वालों की संख्या में वृद्धि हुई। बता दें कि शुक्रवार को जब धमाका हुआ उस वक्त इस शिक्षा केंद्र में करीब 300 छात्र मौजूद थे। एक प्रवेश परीक्षा की तैयारी के दौरान हुए विस्फोट ने देश को हिलाकर रख दिया, जिसके बाद दुनियाभर में विरोध प्रदर्शन हुए। इन आत्मघाती हमलों के बाद महिला प्रदर्शनकारी सुरक्षा की मांग कर रही हैं।

नहीं थम रहे अफगानिस्तान में धमाके
यह विस्फोट काबुल के वजीर अकबर खान इलाके के पास हुए धमाके के कुछ दिनों बाद हुआ है। वजीर अकबर खान इलाके के धमाके ने वैश्विक आक्रोश को जन्म दिया था। इतना ही नहीं काबुल में रूसी दूतावास के बाहर हाल ही में हुए विस्फोट की भी भारी निंदा हुई थी। बता दें कि ये विस्फोट तब हो रहे हैं जब तालिबान ने पिछले साल अमेरिका समर्थित नागरिक सरकार को हटाने के बाद अफगानिस्तान में अपने शासन का एक साल पूरा कर लिया।

Latest World News





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here