गृह युद्ध की तरफ बढ़ा पाकिस्तान? इमरान की रैली पर लगा बैन, कई समर्थक गिरफ्तार


Pakistan News, Imran Khan News, Pakistan Civil War, Imran Khan Rally- India TV Hindi
Image Source : FACEBOOK.COM/IMRANKHANOFFICIAL
Pakistan Ex PM Imran Khan.

Pakistan News: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान पर देश में गृह युद्ध भड़काने की कोशिश करने का आरोप लगाया था। इस बीच पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के 100 से ज्यादा कार्यकर्ता गिरफ्तार कर लिए गए। अब ताजा खबर यह है कि पाकिस्तान सरकार ने मंगलवार को पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की 25 मई की प्रस्तावित विशाल रैली पर रोक लगा दी है। सरकार का कहना है कि इमरान को उनके ‘गुमराह करने वाले एजेंडे को बढ़ावा देने’ से रोकने के लिए रैली पर प्रतिबंध लगाया गया है।

इमरान की मांग को खारिज कर चुकी है सरकार


नेशनल असेंबली भंग करने और देश में चुनाव कराने की मांग को लेकर सरकार पर दबाव डालने के मद्देनजर इमरान ने शनिवार को अपने समर्थकों से शांतिपूर्ण मार्च के साथ 25 मई को इस्लामाबाद पहुंचने का आह्वान किया था। हालांकि, गठबंधन सरकार ने देश में समय से पहले चुनाव कराने की इमरान की मांग को खारिज कर दिया है। साथ ही कहा है कि सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी और चुनाव अगले साल कराए जाएंगे। ऐसे में इमरान की पीटीआई और सत्तारूढ़ दल के बीच टकराव में और तेजी आने के आसार बन रहे हैं।

‘PTI को अफरातफरी फैलाने की इजाजत नहीं देंगे’

गृह मंत्री राणा सनाउल्ला ने कहा, ‘शांतिपूर्ण प्रदर्शन करना प्रत्येक व्यक्ति का अधिकार है लेकिन इमरान के समर्थक शांतिपूर्ण प्रदर्शन के इरादे से नहीं आ रहे हैं। हम कोई आपत्ति नहीं जताते, अगर उन्होंने अपने प्रदर्शन को ‘खूनी विरोध-प्रदर्शन’ करार नहीं दिया होता।’ मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान सरकार विरोध मार्च की आड़ में पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी को ‘अव्यवस्था और अफरातफरी’ फैलाने की इजाजत नहीं देगी। सनाउल्ला ने कहा कि इमरान की रैली पर इसलिए बैन लगाया गया क्योंकि उनकी पार्टी प्रशासन को आश्वस्त करने में विफल रही कि रैली शांतिपूर्ण होगी।

‘देश में गृह युद्ध छेड़ना चाहते हैं इमरान खान’

इससे पहले सोमवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने आरोप लगाया था कि इमरान देश में ‘गृह युद्ध’ छेड़ना चाहते हैं। क्रिकेटर से राजनेता बने इमरान (69) को पिछले महीने विपक्षी दलों ने संसद में एक अविश्वास प्रस्ताव लाकर सत्ता से बेदखल कर दिया था। प्रधानमंत्री शहबाज ने कहा, ‘इमरान नियाजी देश में गृह युद्ध शुरू करना चाहते हैं। लेकिन वह गलती कर रहे हैं। मुल्क उन्हें कभी माफ नहीं करेगा और उन्हें रोक देगा।’ यह पूछे जाने पर कि क्या सरकार इमरान को रोकने के लिए सेना बुलाएगी, शहबाज ने कहा कि जरूरत पड़ने पर इस बारे में फैसला होगा। 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here