चीन में खास तरीके से कोरोना लॉकडाउन का विरोध कर रहे लोग, गा रहे बप्पी लाहिड़ी का ‘जिम्मी जिम्मी’ गाना, देखिए Video


चीन में जिम्मी जिम्मी गाना गाकर विरोध प्रदर्शन कर रहे लोग- India TV Hindi News

Image Source : AP/TWITTER
चीन में जिम्मी जिम्मी गाना गाकर विरोध प्रदर्शन कर रहे लोग

China Zero Covid Policy: चीन की जीरो कोविड पॉलिसी से वहां की जनता काफी परेशान है। इससे न केवल लोग आर्थिक तंगी झेल रहे हैं बल्कि उन्हें खाने की किल्लत का भी सामना करना पड़ रहा है। लेकिन राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने 20वीं राष्ट्रीय कांग्रेस की बैठक में इस पॉलिसी का बचाव किया था। इस पॉलिसी के तहत देश में तमाम तरह की पाबंदियां लगाई गई हैं। ऐसे में अब लोगों ने सरकार के खिलाफ विरोध दर्ज कराना शुरू कर दिया है। लेकिन ये विरोध एक अलग अंदाज में किया जा रहा है। लॉकडाउन से परेशान जनता विरोध प्रदर्शन करते हुए सोशल मीडिया पर अपने वीडियो पोस्ट कर रही है।

लोग प्रदर्शनों में 1982 की फिल्म ‘डिस्को डांसर’ के संगीतकार बप्पी लाहिड़ी के लोकप्रिय गाने ‘जिम्मी जिम्मी आजा आजा’ का जमकर उपयोग कर रहे हैं। चीन के सोशल मीडिया साइट ‘दोयूयिन’ (टिकटॉक का चीनी नाम) पर लाहिड़ी की संगीत से सजे पार्वर्ती खान के गाए हुए इस गीत को मंडारीन भाषा में गाया जा रहा है ‘जि मी, जि मी’। अगर हम ‘जि मी, जि मी’ का अनुवाद करें तो इसका अर्थ होता है ‘मुझे चावल दो, मुझे चावल दो’। इस वीडियो में लोग खाली बर्तन दिखाकर यह बताना चाह रहे हैं कि लॉकडाउन के दौरान खाद्यान्न की कमी की कितनी बुरी स्थिति है।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो

मजे की बात यह है कि वीडियो अभी तक सोशल मीडिया पर मौजूद हैं, जबकि सामान्य तौर पर देश की सरकार की आलोचना करने वाले वीडियो को तत्काल हटा दिया जाता है। गौरतलब है कि चीन में भारतीय सिनेमा हमेशा से लोकप्रिय रहा है और 1950-60 के दशक में राजकपूर की फिल्मों से लेकर ‘3 इडियट’, ‘सीक्रेट सुपरस्टार’, ‘हिंदी मीडियम’, ‘दंगल’ और ‘अंधाधुंध’ को भी यहां के दर्शकों ने पसंद किया है।

दिक्कतों के बारे में बता रहे हैं लोग

पर्यवेक्षकों का कहना है कि चीन के लोगों ने ‘जि मी, जि मी’का उपयोग करके प्रदर्शन करने का कमाल का तरीका सोचा है। वे इसके माध्यम से जीरो कोविड पॉलिसी के कारण जनता को हो रही दिक्कतों के बारे में बता रहे हैं। चीन में जीरो कोविड पॉलिसी के तहत शंघाई सहित दर्जनों शहरों में पूर्ण लॉकडाउन लगाया गया था, जिसके कारण लोग कई सप्ताह तक अपने घरों में बंद रहने को मजबूर हो गए थे।

Latest World News





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here