जापान : असली के धोखे में बेच दी प्लास्टिक पेस्ट्री, अनजाने में हुई भूल के लिए दुकान स्टाफ ने मांगी माफी


हाइलाइट्स

जापान के ओसाका में एक दुकान ने अपने ग्राहकों को नकली पेस्ट्री बेची
दुकान के कर्मचारियों को जरा भी आइडिया नहीं हुआ कि वे पेस्ट्री नकली हैं
गलती के लिए माफी मांगी, कहा, “हमें बहुत खेद है कि गलती से नमूने बेच दिए”

टोक्यो. जापान के ओसाका में एक दुकान ने अपने ग्राहकों को नकली पेस्ट्री बेच दी. ओसाका में स्थित इस दुकान का नाम एंड्रयूज एग टार्ट (Andrew’s Egg Tart) है. दुकान के कर्मचारियों ने अनजाने में ग्राहकों को प्लास्टिक की पांच पेस्ट्रियां बेच दीं. कर्मचारियों को जरा भी आइडिया नहीं हुआ कि वे नकली हैं. क्योंकि जापान में प्लास्टिक खाद्य सैंपल ऐसे बनाए जाते हैं, जिसे देखकर आप बिल्कुल अंदाजा नहीं लगा पाएंगे कि ये असली है या नकली.

जानकारी के लिए आपको बता दें कि जापान में प्लास्टिक खाद्य नमूनों को बनाने का काफी बड़ा उद्योग है, कई मिलियन डॉलर इस उद्योग के जरिये जापान में आते हैं. प्लास्टिक खाद्य नमूनों को जापान में  “शोकुहिन सम्पुर” के रूप में जाना जाता है. जापान की दुकानें इसे इतना यथार्थवादी बनाती हैं कि यह कहना मुश्किल है कि क्या असली है और क्या नहीं. बीयर के ठंडे गिलास पर नमी की बूंदों से लेकर चाऊमीन से भरे बाउल, और न जाने कितनी डिशेस के प्लास्टिक सैंपल को सजाने के लिए तैयार करती हैं.

जापानियों ने कम किया शराब पीना तो डोलने लगी अर्थव्यवस्था, सरकार ने युवाओं से कहा- पीया करो

एएफपी की रिपोर्ट के अनुसार, कर्मचारियों ने शनिवार को पश्चिमी जापान के तोतोरी में एक स्टेशन के पास दो ग्राहकों को प्लास्टिक पेस्ट्री बेचीं. ग्राहकों ने एक बाइट के बाद नकली पेस्ट्री को वापस कर दिया. कंपनी के एक प्रतिनिधि ने इस गलती के लिए बुधवार को माफी मांगी. उन्होंने कहा, “हमें बहुत खेद है कि हमने गलती से नमूने बेच दिए.” भविष्य में इस गलती से बचने के लिए स्टीकर का उपयोग किया जाएगा ताकि असली और नकली खाद्य पदार्थों को अलग किया जा सके.

Tags: Japan



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here