दो देशों के बीच सफर कर रही महिला की डिलीवरी, बच्चे की नागरिकता पर हुई कंफ्यूजन


उड़ती फ्लाइट में डिलीवरी- India TV Hindi News

Image Source : PIXABAY.COM
उड़ती फ्लाइट में डिलीवरी

एक देश से दूसरे देश जाने के लिए एक महिला फ्लाइट से सफर कर रही थी। सफर के बीच में महिला ने 36,000 फीट की ऊंचाई पर बच्चे को जन्म दिया। फ्लाइट के टेकऑफ होने के 30 मिनट बाद ही महिला को प्रसव पीड़ा होने लगी। इसके बाद फ्लाइट में सफर कर रहे यात्री और क्रू की मदद से महिला ने बच्चे को जन्म दिया।

बच्चे को जन्म देने वाली महिला का नाम केंड्रिया रोडेन है, जिनकी उम्र 21 साल है। 32 हफ्ते की प्रेग्नेंसी के बावजूद डॉक्टरों ने उन्हें उड़ान भरने की इजाजत दी थी, क्योंकि उनकी डिलीवरी की ड्यू डेट में करीब एक महीने का वक्त था। केंड्रिया अपनी बहन के साथ अमेरिका से डोमिनिकन रिपब्लिक जा रही थीं।

36,000 फीट की ऊंचाई पर लेबर पेन शुरू 

सफर के दौरान 36,000 फीट की ऊंचाई पर केंड्रिया को लेबर पेन होना शुरू हो गया। इस दौरान साथी पैसेंजर्स और एयरक्राफ्ट क्रू ने डिलीवरी में केंड्रिया की मदद की। इसके बाद केंड्रिया ने बच्चे को जन्म दिया, जिसका नाम उन्होंने स्काईलेन रखा है। जब केंड्रिया, डोमिनिकन रिपब्लिक पहुंचीं, तो उन्होंने एंबेसी में बच्चे की नागरिकता के बारे में सवाल किया।

केंड्रिया को लग रहा था कि उनके बच्चे की नागरिकता को लेकर दिक्कत हो सकती है, क्योंकि उसका जन्म प्लाइट में हुआ है, लेकिन फिर एंबेसी ने साफ किया कि स्काईलेन अमेरिकी नागरिक ही हैं। उनकी मां कनेक्टिकट के हार्टफोर्ड की रहनेवाली हैं।

अमेरिकन एयरलाइंस की फ्लाइट से सफर

फ्लाइट में बच्चे को जन्म देने के अनुभव के बारे में बताते हुए केंड्रिया ने कहा कि शुरू में क्रैम्प्स उठे थे। वह अमेरिकन एयरलाइंस की फ्लाइट से सफर कर रही थीं। केंड्रिया पेशे से एक हेल्थ वर्कर हैं। उन्होंने कहा कि फ्लाइट के टेकऑफ के 34 मिनट बाद ही लेबर पेन शुरू हो गया था। उन्होंने कहा कि इस दौरान केबिन क्रू ने मेरी बहुत मदद की।

केंड्रिया ने कहा, मुझे बस इतना याद है कि लोग मेरा वीडियो बना रहे थे और जब मैं फ्लाइट से बाहर आ रही थी, तो लोग मुझे मुबारकबाद दे रहे थे। केंड्रिया की बहन केंडली रोडेन ने एक वीडियो शेयर किया। केंडली ने कहा, उसने मुझे बताया कि प्रसव पीड़ा शुरू हो गया है, तो मैं चौंक गई। केंडली ने कहा, मेरी बहन की मदद के लिए चार पैसेंजर्स आए। बहन को प्लेन के पिछले हिस्से में ले जाया गया। 20 मिनट के बाद फ्लाइट में बच्चे के जन्म की अनाउंसमेंट कर दी गई। 

जन्म के बाद बच्चे को आईसीयू में चार दिनों तक रखा गया था। चूंकि केंड्रिया बच्चे के जन्म के बाद उसकी नागरिकता को लेकर कनफ्यूजन में थी, इसलिए अस्पताल से आने के बाद तुरंत बाद उन्होंने मामले को क्लियर करने अमेरिकी दूतावास पहुंची थीं। 

Latest World News





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here