न्यूजीलैंड ने सांसदों को TikTok के इस्तेमाल पर दी चेतावनी, कहा-चीन कर सकता है डाटा चोरी


हाइलाइट्स

न्यूजीलैंड ने सांसदों को TikTok के इस्तेमाल पर दी चेतावनी
चीन कर सकता है डाटा चोरी
न्यूजीलैंड में पुलिसकर्मियों पर इस ऐप के इस्तेमाल पर प्रतिबंध

वेलिंगटन. न्यूज़ीलैंड के सांसदों को टिकटॉक का इस्तेमाल बंद करने की चेतावनी दी गई है. दरअसल उनकी चिंता इस बात को लेकर है कि चीन की सरकार उनका डेटा एक्सेस कर सकती है. पिछले हफ्ते ही हाउस के स्पीकर ट्रेवर मल्लार्ड (Trevor Mallard) ने सभी दलों को चेतावनी दी थी कि सांसदों को अपने संसदीय फोन और उपकरणों पर इस ऐप का इस्तेमाल नहीं करना है.

एक ईमेल में कहा गया है कि ऐसा करने से उनके सुरक्षा में जोखिम पैदा हो सकती है. टिकटॉक के मालिक और चीनी सरकार द्वारा आपके डिवाइस पर डेटा एक्सेस किया जा सकता है. संसदीय सेवा के संदेश में कहा गया है कि इस ऐप को पूरी तरह से हटाने की सिफारिश की गई है. अगर इसका उपयोग किया जा रहा है तो उपयोगकर्ताओं को ये सुनिश्चित करना होगा कि ‘क्या वे उस ऐप पर दी गई अपनी अनुमतियों को लेकर सहज हैं.’ और इसके साथ ही सेटिंग्स की जरूर जांच ले कि आपने लोकेशन सर्विस को चालू तो नहीं किया है.

2020 में राष्ट्रपति ट्रम्प ने टिकटॉक पर प्रतिबंध लगाने का आदेश दिया था
साल 2020 में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने सुरक्षा चिंताओं और चीनी सरकार के साथ इसकी निकटता का हवाला देते हुए टिकटॉक पर प्रतिबंध लगाने का एक कार्यकारी आदेश दिया. लेकिन जो बाइडेन ने घोषणा की कि वह 2021 में उन आदेशों को रद्द कर देंगे. हालांकि सत्ता में आने के बाद उन्होंने टिकटॉक को बैन ही रहने दिया.

TikTok भारत में जल्‍द करेगा वापसी! इस बार TickTok नाम से एंट्री की कर रहा है तैयारी

2020 में भी इस एप को हटाने की सलाह दी गई थी
आपको बता दे की यह पहली बार नहीं है जब न्यूजीलैंड के सांसदों को ऐप के खिलाफ चेतावनी दी गई है. 2020 में भी इस ऐप को हटाने की सलाह दी जा चुकी है. न्यूज़ीलैंड के पुलिसकर्मियों पर इस ऐप के इस्तेमाल को लेकर प्रतिबंध लगाया गया था.

Tags: Boycott chinese products, China, CHINESE APPS BANNED, Data misuse, Data Privacy, Newzealand, TikTok



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here