पोलैंडः कब्र में मिला महिला वैंपायर का कंकाल, गले में फंसाई गई थी दरांती, सच्चाई जान उड़ जाएंगे होश


हाइलाइट्स

रिपोर्ट के मुताबिक 11वीं सदी में यूरोप के लोग वैंपायरों से बहुत डरते थे.
वैंपायर के डर से लोग अपने रिश्तेदारों के शवों को कब्र में ही जला भी देते थे.
लोगों का मानना था कि वैंपायर्स मरने के बाद भी वापस आकर खून पीने के लिए इंसानों को मारेंगे.

वॉरसॉ. पोलैंड में पुरातत्व विभाग को एक हैरान कर देने वाली चीज मिली है. 17वीं सदी की कब्र की खुदाई के दौरान एक ऐसी कब्र मिली, जिसे देखकर हर कोई चौंक गया. इसमें महिला का एक कंकाल मिला है. उसके चारों तरफ दरांत धंसाया गया हुआ है. इसके पीछे आशंका जताई जा रही है कि अगर ये महिला वापस जिंदा होती तो उन दरांती से सिर कटकर कब्र में ही रह जाता. डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक इस पूरे मामले की जांच करने वाले पुरातत्व टीम के प्रमुख निकोलस कॉपरनिकस यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर डॉरिज पोलिंस्की ने बताया कि कंकाल के दांत वैंपायर के तरह बेहद नुकीले थे. महिला सिल्क की टोपी पहनती थी. इसका सबूत कब्र के अंदर मौजूद टोपी के रेशे से मिला है.

स्मिथसोनियन मैगजीन की रिपोर्ट के मुताबिक 11वीं सदी में यूरोप के लोग वैंपायरों से बहुत डरते थे. वो अपने मृतक रिश्तेदारों की कब्रों में वैंपायर विरोधी पूजा-पाठ करते थे और सामान रखते थे. क्योंकि उस सदी में कुछ लोगों का मानना था कि वैंपायर्स मरने के बाद भी वापस आकर खून पीने के लिए इंसानों को मारेंगे. इसलिए उनको दफन करते वक्त कब्र के चारों तरफ दरांती लगाई जाती थी. 17वीं सदी आते-आते पूरे पोलैंड में वैंपायर्स माने जाने वाले इंसानों को दफनाते वक्त गले के चारों तरफ दरांती फंसा दी जाती थी. यह परंपरा वर्षों तक चलती रही. प्रोफेसर डॉरिज पोलिंस्की ने कहा कि कई बार ये दरांतियां हाथ-पैर में लगाई जाती थी.

साथ ही यह भी बताया कि शव को कब्र में उल्टा करके दफनाने की भी प्रक्रिया थी. ताकि वह मुंह खोले तो उनको मिट्टी ही खाने को मिले या फिर लोग उन्हें कब्र में ही जला देते थे. इसके अलावा पत्थरों से मारकर दबा दिया जाता था. इसके अलावा पोलैंड में ऐसी कई और कब्रे मिली हैं, जिनमें वैंपायरों को रोकने के लिए तरकीब अपनाई गई थी. जैसे कंकाल में धातु की सलांखें हथौड़े से कई जगहों पर घोंप दी जाती थीं. जिस महिला वैंपायर का कंकाल बरामद हुआ है, उसके गले और पैर में दरांती जैसे धारदार हथियार लगाए गए थे. ताकि वह किसी भी तरह उठ न सके.

Tags: Poland



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here