फ्रांस: राष्ट्रपति मैक्रों का गठबंधन बहुमत से दूर, दक्षिणपंथी दल को मिली ‘ऐतिहासिक विजय’


पेरिस .  फ्रांस (France) की दक्षिणपंथी नेता मरीन ली पेन (Marine Le Pen) ने सोमवार को कहा कि देश के संसदीय चुनाव में उनकी पार्टी को मिली असाधारण बढ़त एक ‘ऐतिहासिक विजय’ है और इससे फ्रांस की राजनीति में ‘बड़ा बदलाव’ आया है. रविवार को हुए चुनाव में बहुत से मतदाताओं ने दक्षिणपंथी और वामपंथी उम्मीदवारों के पक्ष में मतदान किया और नेशनल असेंबली में राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों (Emmanuel Macron) के मध्यमार्गी गठबंधन को स्पष्ट बहुमत नहीं दिया.

ली पेन की पार्टी नेशनल रैली को 577 सदस्यीय नेशनल असेंबली में 89 सीटें मिलीं जो कि पहले आठ थीं. ज्यां लुक मेलेन्कों के नेतृत्व वाले वामपंथी गठबंधन ‘न्यूप्स’ को 131 सीटों पर विजय हासिल हुई और यह अब मुख्य विपक्षी दल बन गया है. मैक्रों के नेतृत्व वाले गठबंधन ‘टुगेदर’ को सर्वाधिक 245 सीटें मिली लेकिन यह स्पष्ट बहुमत से 44 सीट पीछे रह गया.

अप्रत्याशित नतीजे,  सरकार अब अल्पमत में 

फ्रांस में चुनाव के अप्रत्याशित नतीजे आए हैं और ली पेन की नेशनल रैली तथा मेलेन्कों के गठबंधन का अच्छा प्रदर्शन मैक्रों की नीतियों के क्रियान्वयन की राह में रोड़ा अटकाने का काम करेगा जो करों में कटौती और सेवानिवृत्ति की उम्र 62 से बढ़ाकर 65 करना चाहते हैं. उत्तरी फ्रांस के हेनिन ब्यूमोंट में ली पेन ने सोमवार को कहा, ‘मैक्रों की सरकार अब अल्पमत में है. सेवानिवृत्ति में सुधार की उनकी योजना अब पूरी नहीं हो पाएगी.’ उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘यह एक ऐतिहासिक विजय और बड़ा बदलाव है. हम संसद में मजबूत स्थिति में हैं और हर उस पद पर दावा करेंगे जो हमारा है.’

Tags: Emmanuel Macron, France



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here