‘बताओ कि क्या वहां कोई बाग है?’ युद्ध की चीखों के बीच यूक्रेनी सैनिक का बेटी को पैगाम


Russia Ukraine War- India TV Hindi
Image Source : TWITTER/MFA_UKRAINE
vyshebaba, Ukrainian soldier

Highlights

  • यूक्रेनी सैनिक ने अपनी बेटी के लिए लिखी एक प्यारी कविता
  • सैनिक की बेटी ने अपने पिता से जंग के हालात के बारे में पूछा था
  • जवाब में पिता ने लिखा- मुझसे जंग के बारे में ना पूछो, बताओ कि क्या वहां कोई बाग है?

Russia Ukraine War: रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध का आज 94वां दिन है लेकिन अब तक इसका कोई नतीजा नहीं निकल सका है। कई देशों ने इन दोनों देशों के बीच मध्यस्थता करने की भी कोशिश की, लेकिन कोई सफलता हासिल नहीं हुई। दोनों देशों में से कोई भी झुकने के लिए तैयार नहीं है। जहां एक तरफ रूस को अपनी शक्ति पर भरोसा है, वहीं यूक्रेन अपने जुझारू सैनिकों की दम पर युद्ध में डटा हुआ है। बीते 2 महीनों से रूस, यूक्रेन पर लगातार चोट कर रहा है लेकिन यूक्रेनी लड़ाकों के हौसले अभी भी पस्त नहीं हुए हैं।

रूस के साथ यूक्रेन के भीषण यु्द्ध (Russia Ukraine War) के शोर के बीच एक यूक्रेनी सैनिक ने अपनी बेटी के लिए एक प्यारी कविता लिखी है। दरअसल इस सैनिक की बेटी ने अपने पिता से जंग के हालात के बारे में पूछा था, जिसके जवाब में पिता ने कविता लिखी। ये कविता यूक्रेनी भाषा में लिखी गई है लेकिन सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद इसका कई भाषाओं में अनुवाद किया जा चुका है। यूक्रेनी विदेश मंत्रालय ने इसका अंग्रेजी अनुवाद ट्विटर पर शेयर किया है। इसे अनास्तासिया किरी नाम के एक शख्स ने ट्रांसलेट किया है।

यूक्रेनी सैनिक ने लिखा- बताओ वहां बाग है?

यूक्रेनी सैनिक का नाम वैशेबाबा है और उसकी बेटी ने जब जंग (Russia Ukraine War) के हालात के बारे में पूछा तो उन्होंने लिखा, ‘मुझसे जंग के बारे में ना पूछो, मुझे बताओ कि क्या वहां कोई बाग है?’ वैशेबाबा ने अपने इस पैगाम में ये इच्छा भी जताई कि वो अपनी बेटी और परिवार के साथ समय बिताना चाहते हैं। 

दुनियाभर में पढ़ी जा रही यूक्रेनी सैनिक की ये कविता

यूक्रेनी सैनिक द्वारा अपनी बेटी के लिए लिखी गई ये कविता पूरी दुनिया में पढ़ी जा रही है। ये कविता सोशल मीडिया पर वायरल हो चुकी है और ट्विटर यूजर्स इस कविता पर अपना प्यार जता रहे हैं और इमोशनल हो रहे हैं। गौरतलब है कि यूक्रेन पर हुए रूसी हमलों (Russia Ukraine War) में सैकड़ों मासूम बच्चों की भी जान गई है और लाखों लोग बेघर हुए हैं। 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here