यूक्रेनी लड़ाकों ने रूसी सेना को दी पटखनी, राष्ट्रपति जेलेंस्की ने पुतिन को दी ये चेतावनी


Russia Ukraine War News- India TV Hindi
Image Source : AP/PTI
Russia Ukraine War News

Highlights

  • यूक्रेन की सेना ने रूस के मिथक को तोड़ दिया: जेलेंस्की
  • डोनबास यूक्रेन का ही रहेगा: जेलेंस्की
  • युद्ध का 94वां दिन, लेकिन अब तक नहीं निकला कोई नतीजा

Russia Ukraine War News: रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध के बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की (Volodymyr Zelenskyy) ने शुक्रवार को एक बड़ा दावा किया है। उन्होंने 2 संबोधन दिए हैं, जिसमें उन्होंने देश के पूर्वी हिस्से में हुई लड़ाई में रूसी सेना के खिलाफ जीतने की बात कही है।

दरअसल यूक्रेन (Ukraine) के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के छात्रों को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि यूक्रेन की सेना ने रूस के इस मिथक को तोड़ दिया कि वो एक असाधारण पावर है और वह किसी को भी हरा सकता है। 

उन्होंने कहा, ‘रूस (Russia) पूरे देश पर कब्जा करने की कोशिश कर रहा है लेकिन हम मजबूत स्थिति में हैं।’ जेलेंस्की ने इस दौरान ये भी कहा कि दोनेत्स्क क्षेत्र का बड़ा रेलवे हब और दो अन्य प्रमुख शहर अब भी यूक्रेन के पास हैं। अगर उन्हें (रूसी सेना) लगता है कि लाइमैन या सिविएरोदोनेत्स्क उनके हो जाएंगे, तो वे गलत सोच रहे हैं। डोनबास यूक्रेन का ही रहेगा। 

युद्ध का 94वां दिन, अब तक नहीं निकला कोई नतीजा

रूस और यूक्रेन युद्ध (Russia Ukraine War) का आज 94वां दिन है लेकिन अब तक इसका कोई नतीजा नहीं निकल सका है। कई देशों ने इन दोनों देशों के बीच मध्यस्थता करने की भी कोशिश की, लेकिन कोई सफलता हासिल नहीं हुई। दोनों देशों में से कोई भी झुकने के लिए तैयार नहीं है।

जहां एक तरफ रूस को अपनी शक्ति पर भरोसा है, वहीं यूक्रेन अपने जुझारू सैनिकों की दम पर युद्ध में डटा हुआ है। बीते 2 महीनों से रूस, यूक्रेन पर लगातार चोट कर रहा है लेकिन यूक्रेनी लड़ाकों के हौसले अभी भी पस्त नहीं हुए हैं। 

यूक्रेन के विदेश मंत्री ने कहा- हमें भारी हथियारों की जरूरत, मदद करें पश्चिमी देश

बता दें कि हालही में यूक्रेन (Ukraine War) के विदेश मंत्री ने रूसी बलों को पीछे हटाने के लिए पश्चिमी देशों से मदद मांगी थी और उनसे भारी हथियार देने के लिए कहा था। विदेश मंत्री दिमित्री कुलेबा ने गुरुवार रात एक वीडियो ट्वीट कर ये अपील की थी। कुलेबा ने कहा था कि रूस के पास हमसे बेहतर भारी हथियार हैं, इसलिए हमें उनका सामना करने के लिए भारी हथियार चाहिए। 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here