यूक्रेन के लुहान्स्क पर कब्जा करने के रूस के दावे को जेलेंस्की ने किया खारिज


कीव. यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर ज़ेलेंस्की ने रविवार को इस बात से इनकार किया कि रूसी सेना ने यूक्रेन के लुहान्स्क प्रांत के अंतिम गढ़ को पूरी तरह से अपने कब्जे में कर लिया है. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर आए प्रधानमंत्री के साथ एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘लिसिचेंस्क शहर के लिए अब भी लड़ाई लड़ी जा रही है.’ रूस ने रविवार की सुबह शहर पर नियंत्रण का दावा किया था.

रूस के रक्षा मंत्री ने दावा किया है कि रूसी बलों ने रविवार को यूक्रेन के पूर्वी क्षेत्र स्थित लुहांस्क प्रांत के अहम शहर पर कब्जा कर लिया है, जिस पर अब तक यूक्रेन का नियंत्रण था. उन्होंने कहा कि इसके साथ ही रूस यूक्रेन के पूरे डोनबास इलाके पर कब्जा करने के लक्ष्य के करीब पहुंच गया है. रूसी समाचार एजेंसी के मुताबिक, रक्षामंत्री सर्गेई शोइगू ने राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को बताया कि रूसी सैनिकों ने स्थानीय मिलिशिया के साथ मिलकर ‘लिसिचांस्क शहर पर पूर्ण नियंत्रण स्थापित कर लिया है.’

लुहांस्क के गवर्नर ने क्या कहा?
लुहांस्क के गवर्नर ने रविवार तड़के बताया था कि रूस की सेनाएं यूक्रेन के पूर्वी लुहांस्क प्रांत में बचे आखिरी गढ़ पर कब्जा करने के लिए अपनी स्थिति मजबूत कर रही हैं. लुहांस्क के गवर्नर सेरही हैदै ने टेलीग्राम मैसेजिंग ऐप के जरिये कहा, ‘कब्जा करने वाले (रूस) ने अपनी सभी सेनाएं लिसिचांस्क शहर की ओर भेज दी हैं. वे शहर पर क्रूर हथकंडे के तहत हमला कर रही हैं.’ उन्होंने कहा, “रूस को भारी नुकसान हुआ है, लेकिन वे बढ़त बनाए हुए हैं. उनकी शहर में मौजूदगी बढ़ रही है.”

‘रूसी सेना पहली बार नदी पार कर उत्तर से यूक्रेन में दाखिल हुई’
उल्लेखनीय है कि एक नदी लिसिचांस्क को सिविएरोडोनेत्स्क से अलग करती है. यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की के सलाहकार ओलेक्सी एरेस्टोविच ने शनिवार देर रात ऑनलाइन साक्षात्कार में कहा कि रूसी सेनाएं पहली बार नदी पार कर उत्तर से दाखिल होने में सफल रही हैं जिससे ‘खतरनाक’ स्थिति उत्पन्न हो गई है. एरेस्टोविच ने कहा कि अभी वे (रूसी सैनिक) शहर के केंद्र तक नहीं पहुंचे हैं, लेकिन लिसिचांस्क की लड़ाई के रुख का फैसला सोमवार तक हो जाएगा.

Tags: Russia, Ukraine



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here