यूक्रेन जंग पर भारत ने कहा- निर्दोष लोगों को मारकर किसी समाधान पर नहीं पहुंच सकते


न्यूयॉर्क. रूस और यूक्रेन के बीच पांच महीने से जंग जारी है. इस जंग में यूक्रेन तबाह हो रहा है. इस बीच संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक के दौरान संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) की ब्रीफिंग में भारत ने यूक्रेन संकट पर चिंता जताई. बैठक के दौरान संयुक्त राष्ट्र में भारतीय स्थायी मिशन के काउंसलर प्रतीक माथुर (Pratik Mathur) ने दो टूक में जवाब देते हुए कहा, ‘भारत का मानना है कि निर्दोष लोगों की जान की कीमत पर कोई समाधान नहीं निकाला जा सकता है.’

संयुक्त राष्ट्र में भारतीय स्थायी मिशन के काउंसलर प्रतीक माथुर ने कहा, ‘हम अपनी इस बात को फिर से दोहराना चाहते हैं कि हमारी वैश्विक व्यवस्था अंतरराष्ट्रीय कानून, संयुक्त राष्ट्र चार्टर और क्षेत्रीय अखंडता और राज्यों की संप्रभुता के सम्मान पर आधारित है.’ उन्होंने कहा कि हम यूक्रेन के लोगों के दर्द को कम करने के सभी प्रयासों का समर्थन करते हैं. विशेष रूप से यूक्रेन और रूसी संघ के बीच बातचीत को प्रोत्साहित करते हैं.

भारत यूक्रेन की स्थिति को लेकर काफी चिंतित
प्रतीक माथुर ने कहा, ‘भारत यूक्रेन की स्थिति को लेकर काफी चिंतित है. संघर्ष के परिणामस्वरूप अपने लोगों, विशेष रूप से महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गों के जीवन को अनगिनत दुखों का सामना करना पड़ा है. लाखों लोग बेघर हो गए और पड़ोसी देशों में शरण लेने के लिए मजबूर हो गए.’ उन्होंने कहा, ‘संघर्ष की शुरुआत से भारत लगातार सभी तरह की शत्रुताओं को पूरी तरह से खत्म करने का आह्वान करता रहा है और शांति, संवाद व कूटनीति के हिस्से की वकालत करता रहा है.’

जंग में अब तक 15 हजार लोगों की मौत
बता दें कि दोनों देशों के बीच जंग में अब तक लगभग 15 हजार लोगों की मौत हो चुकी है. इनमें 4000 से अधिक आम नागरिकों की मौत हुई है. जबकि 10 हजार से अधिक सैनिकों ने भी जान गंवाई है.

यूक्रेन में कैबिनेट फेरबदल जल्द
रूस से जंग के बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति वोल्दोमीर जेलेंस्की ने ऐलान किया है कि वे जल्द ही कैबिनेट फेरबदल करेंगे. उन्होंने कहा कि विदेश नीति को मजबूत करने और भ्रष्टाचार को रोकने के लिए यह फैसला किया गया है. (ANI इनपुट के साथ)

Tags: India russia, Russia ukraine war, UNSC, Vladimir Putin



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here