लुहांस्क में 24 घंटे में हुए 26 हमले, रूस ने दागीं 800 मिसाइलें; ये हैं यूक्रेन जंग के 10 अपडेट


कीव/मॉस्को. रूस-यूक्रेन जंग को दो महीने से ज्यादा वक्त हो गया है. अब भी यूक्रेनी शहरों पर रूसी हमले जारी हैं। ताजा अपडेट के मुताबिक, रूस ने लुहांस्क के सेवेरोदोनेट्स्क में पिछले 24 घंटे में 26 बार हवाई हमले किए हैं. इस दौरान रूसी सेना ने 800 मिसाइलें दागीं. जिसमें 7 इमारतों को नुकसान पहुंचा है. इधर, क्रीवी री के निप्रोपेट्रोवस्क में हुई बमबारी में एक व्यक्ति की मौत हो गई और एक घायल हो गया. रूसी सैनिकों ने चेर्नीहीव पर भी हमले किए जिसमें 3 लोगों की मौत हो गई और 12 लोग घायल हो गए.

यूक्रेनी सेना ने दावा किया है कि रूस ने जंग की शुरूआत से अब तक करीब 800 क्रूज और बैलिस्टिक मिलाइलें दागी हैं. वहीं, रूसी सेना ने खार्किव में एक अनाज गोदाम पर मिसाइल अटैक किया, इस हमले में एक नागरिक की मौत हो गई.

इसके साथ ही आइए जानते हैं रूस और यूक्रेन जंग के बड़े अपडेट्स…

यूक्रेनी सेना ने बीते रोज डोनबास रीजन में रूस के 8 टैंक, 6 बख्तरबंद वाहन और 1 एंटी एयरक्राफ्ट सिस्टम को तबाह कर दिया.

एक यूक्रेनी कमांडर ने ट्वीट कर मारियुपोल में फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए टेस्ला के CEO एलन मस्क से मदद मांगी है.

यूक्रेन का दावा है कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने बीच युद्ध में ही टॉप कमांडर जनरल वालेरी गेरासिमोव को सस्पेंड कर दिया है, जबकि कई अन्य टॉप अधिकारियों को या तो बर्खास्त कर दिया गया है या फिर गिरफ्तार कर लिया गया.

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की का कहना है कि युद्ध शुरू होने के बाद से रूस ने यूक्रेन के 570 हेल्थ सेंटर्स और 101 हॉस्पिटल को तबाह कर दिया है. वहीं, यूक्रेन के ऑपरेशनल टैक्टिकल ग्रुप का कहना है कि बीते रोज उन्होंने देश के पूर्वी हिस्से में 180 रूसी सैनिकों को ढेर कर दिया.

फिनलैंड ने नाटो की सदस्यता लेने का अब पूरी तरह मन बना लिया है. सोमवार (16 मई) को फिनलैंड नाटो की सदस्यता के लिए अप्लाई करेगा.

ब्रिटेन के PM बोरिस जॉनसन ने रूसी हमले की स्थिति में स्वीडन और फिनलैंड को मदद देने का प्रस्ताव रखा है. जॉनसन का कहना है कि ब्रिटेन, स्वीडन को नाटो की सदस्यता देने के पक्ष में है. इस मुद्दे पर वोटिंग में वह समर्थन देगा.

फिनलैंड के फैसले से रूस भड़क गया है. रूसी सरकार के प्रवक्ता दिमित्री पेश्कोव ने कहा कि अगर फिनलैंड नाटो में शामिल होता है तो उसे नतीजे भुगतने होंगे. रूस की फिनलैंड के साथ 1340 किमी सीमा लगती है.

दूसरी तरफ बीते दिन संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (UNHRC) में यूक्रेन के मानवीय संकट को लेकर वोटिंग की गई। 47 में से 33 देशों ने रूस के खिलाफ वोट दिया. जबकि भारत और पाकिस्तान समेत 12 लोगों ने वोटिंग परहेज किया. वहीं, चीन और इरीट्रिया रूस के सपोर्ट में वोट दिया.

मारियुपोल के मेयर पेट्रो एंड्रीशचेंको ने बताया, ‘रूसी सैनिकों ने शहर से निकलने वाले सभी रास्तों को बंद कर दिया है. वहां की कुछ इमारतों में ही रहने लायक हालात हैं. शहर में बचे नागरिक भोजन के बदले रूसी सेनाओं के साथ सहयोग कर रहे हैं. उधर, रूसी फौजें पूर्वी यूक्रेन में अपनी स्थिति मजबूत कर रही हैं.

रूस के खिलाफ प्रतिबंध बढ़ाने को लेकर जापान और यूरोपीय संघ (ईयू) राजी हो गए हैं. दोनों देशों के नेताओं ने हिंद-प्रशांत क्षेत्र में इस युद्ध के असर को लेकर चिंताएं जताई, जहां चीन की बढ़ती पैठ के बीच वे आपसी भागीदारी मजबूत करने समेत सहयोग बढ़ाना चाहते हैं.

Tags: NATO, Russia, Russia ukraine war, Vladimir Putin



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here