विकट्री परेड में पुतिन आज यूक्रेन पर कर सकते हैं बड़ा ऐलान, पढ़ें 10 अपडेट


Russia-Ukraine War News Update: रूस और यूक्रेन के बीच जंग का सोमवार को 75वां दिन है. आज रूस का विकट्री डे है. दूसरे विश्व युद्ध में रूस ने 9 मई यानी आज ही हिटलर की नाजी सेना को हराया था. रूसी राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन इस दिन की अहमियत को देखते हुए आज ही यूक्रेन के खिलाफ युद्ध का ऐलान कर सकते हैं. इसके अलावा यूक्रेनी शहर मारियुपोल में रूसी सेना परेड भी कर सकती है. रूस अब तक यूक्रेन पर हमले को स्पेशल ऑपरेशन बताता रहा है.

वहीं, रूस पर दबाव बढ़ाने के लिए अमेरिका, G-7 देशों और यूरोपियन यूनियन ने प्रतिबंधों का दायरा बढ़ा दिया है. रूसी अर्थव्यवस्था को झटका देने के लिए मॉस्को से ऑयल इंपोर्ट बैन करने की बात कही गई है. हालांकि, इसके लिए कोई समय सीमा तय नहीं की गई है.

इसके साथ ही आइए जानते हैं रूस और यूक्रेन के बीच जारी जंग के बड़े अपडेट्स…

यूक्रेनी सेना का दावा है कि उसने 8 मई को पूर्वी यूक्रेन में 190 रूसी सैनिकों को हरा दिया. मारियुपोल स्टील प्लांट से निकाले गए 177 लोग सुरक्षित जपोरिजिया पहुंच गए हैं.

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की को और मदद का भरोसा दिया. अमेरिका ने अब तक 2600 से ज्यादा रूसियों को वीसा देने से इनकार किया. इसके साथ ही रूस के तीन 3 सरकारी चैनलों पर बैन लगाया है. कोई अमेरिकी नागरिक रूसी कंपनियों को किसी भी तरह की सर्विस नहीं दे सकेगा.

रूस के प्रमुख बैंकों और वित्तीय संस्थानों के साथ किसी भी प्रकार के लेन-देन पर रोक रहेगी. रूस से इंपोर्टेड लकड़ी के समान, पंखे, वेंटिलेशन सामान और अन्य कई इलेक्ट्रिक समान को भी बैन लिस्ट में डाला गया है.

रूस ने रविवार तड़के यूक्रेन के लुहांस्क में एक स्कूल पर हवाई हमले किए. यूक्रेन सरकार की तरफ से जारी बयान में कहा गया- यह बमबारी बिलोहोरिखिवा गांव के एक स्कूल पर की गई. यहां मौजूद 90 लोगों में से 30 को बचा लिया गया, जबकि 60 के मारे जाने की आशंका है.

राजधानी कीव में रूसी हमले थमने के बाद विदेशी एम्बेसी और डिप्लोमैट्स के लौटने का सिलसिला शुरू हो गया है. बीते दिन अमेरिकी डिप्लोमैट्स की एक टीम राजधानी कीव में मौजूद US एम्बेसी लौट आई. यूरोप 8 मई को विक्ट्री डे मनाता है. इसी दिन अमेरिकी डिप्लोमैट्स ने कीव लौटकर रूस को संदेश दिया है.

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने हर साल यूक्रेन को 1.5 अरब डॉलर के एंटी टैंक मिलिट्री इक्विपमेंट भेजने की बात कही है. इसके साथ अगले एक साल के लिए यूक्रेन के लिए सभी इंपोर्ट ड्यूटी हटा ली गई है.

मारियुपोल में यूक्रेनी प्रतिरोध की पहचान बने अजोवस्तल स्टील प्लांट में फंसे सभी नागरिकों को निकाल लिया गया है. संयुक्त राष्ट्र व रेडक्रॉस के दखल से चले बचाव अभियान के तहत रूस ने सुरक्षित रास्ता दिया.

यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने बताया कि प्लांट से 300 नागरिकों को निकाला गया है, लेकिन रूसी पक्ष का दावा 176 लोगों को निकालने का है. इस प्लांट को छोड़ पूरे मारियुपोल पर फिलहाल रूस का कब्जा है. मारियुपोल रूस के लिए बेहद अहम है. यहां से वह यूक्रेन के समुद्री रास्ते से व्यापार को नियंत्रित करने के साथ ही क्रीमिया तक सीधे पहुंच पाएगा.

यूक्रेनी राष्ट्रपति जेलेंस्की ने बताया कि खारकीव में रूस के मिसाइल हमले में एक संग्रहालय पूरी तरह तबाह हो गया. जेलेंस्की ने दावा किया कि रूस अब तक 200 से ज्यादा सांस्कृतिक विरासत स्थलों को तबाह कर चुका है. रूसी सेना खारकीव से अब रणनीति के तहत पीछे हट रही है.

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की पत्नी जिल बाइडन रविवार को अचानक यूक्रेन पहुंचीं. यहां उन्होंने यूक्रेन की फर्स्ट लेडी ओलेना जेलेंस्का से मुलाकात की. ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ के मुताबिक, जेलेंस्का और जिल की मुलाकात उजहोरोद कस्बे में हुई.

यूक्रेन को पश्चिमी देशों मदद मिलना लगातार जारी है. अब यूक्रेनी आर्मी को तुर्की में बने 12 बेयरेकतार टीबी-2 ड्रोन मिले हैं. न्यूज वेबसाइट हैबरलर के मुताबिक, पिछले 8 साल में तुर्की ने 400 से ज्यादा बेयरेकतार टीबी-2 ड्रोन डेवलप किए हैं और इनमें से 96 बेच दिया. इस ड्रोन को काफी एडवांस माना जाता है.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी | आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी |

FIRST PUBLISHED : May 09, 2022, 07:07 IST



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here