श्रीलंका: ईंधन के लिए मचा हाहाकार, 4-5 दिन तक कतार में खड़े होकर अपनी बारी का लोग कर रहे इंतजार


नई दिल्ली: श्रीलंका अपनी आजादी के बाद के सबसे खराब दौर से गुजर रहा है. आसमान छूती महंगाई, पेट्रोल डीजल समेत दूसरी जरूरी चीजों की कमी ने जनता को उग्र बना दिया और अब हालात पूरी तरह से बेकाबू हो चुके हैं. प्रदर्शन कर रहे लोगों ने प्रधानमंत्री आवास और राष्ट्रपति आवास पर कब्जा कर लिया. जिंदगी जीने के लिए आवश्यक सामान तक लोगों को नसीब नहीं हो पा रहा है.

इस बीच श्रीलंका के ईंधन स्टेशन की कुछ फोटोज सामने आई जहां हजारों लोगों की लंबी लंबी कतारे देखने को मिलीं. बताया जा रहा है कि इन लाइनों में कई ऐसे लोग है जो पिछले 4-5 दिन से खड़े हैं और अपनी बारी आने का इंतजार कर रहे हैं. ईंधन स्टेशन पर एक सीमित मात्रा में तेल लोगों को दिया जा रहा है.

निर्धारित सीमा में दिया जा रहा तेल
ईंधन स्टेशन पर खड़े एक स्थानीय ने कहा कि मैं गुरुवार को यहां आया था. एक व्यक्ति को तेल लेने के लिए 4 से 5 दिन तक इंतजार करना पड़ता है. शख्स ने बताया कि पेट्रोल पंप वालों ने बाइक के लिए 1500 रुपये की सीमा निर्धारित की है. इससे अधिक का तेल नहीं मिल रहा है. उनसे कहा कि हमारा सिर्फ 3 लीटर में काम नहीं चलेगा क्योंकि हम कोरियर सेवा में हैं.

कतार में अब तक 15 लोगों की हो चुकी है मौत
श्रीलंका में इस साल की शुरुआत से ही आर्थिक संकट को लेकर प्रदर्शन शुरू हो गए थे. पेट्रोल डीजल लेने के लिए स्टेशनों में लंबी लंबी लाइन लगी हुई हैं. एक रिपोर्ट के मुताबिक ईंधन की लाइन में कई दिनों तक खड़े रहने की वजह से श्रीलंका में अब तक कुल 13 लोगों की मौत हो चुकी है.

श्रीलंका सरकार का विदेशी मुद्रा भंडार लगभग खत्म हो चुका है जिसकी वजह से देश की सरकार नागरिकों के लिए जरूरी सामान का आयात नहीं कर पा रही है. देश में ईधन संकट गहरा गया है और पेट्रोल डीजल के दाम में भारी बढ़ोतरी देखने को मिली है. श्रीलंका में इस समय पेट्रोल 470 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है. जबकि वहीं डीजल 460 रुपये प्रति लीटर.

ईंधन की कमी को देखते हुए सरकार ने इस बीच एक बड़ा फैसला लिया है. समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक में 1990 से चलाई जा रही आपातकालीन एम्बुलेंस सेवा को कई इलाकों में निलंबित कर दिया गया है. इसके लिए एक लिस्ट जारी की गई है जहां एम्बुलेंस सेवा नहीं दी जाएगी.

Tags: Petrol diesel price, Petrol price hike, Sri lanka, World news in hindi





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here