सूडान में दो कबायली समूहों के बीच खूनी झड़प, 31 लोग मारे गए, इतने हुए घायल


Sudan Tribal Clash- India TV Hindi News
Image Source : REPRESENTATIVE IMAGE
Sudan Tribal Clash

Highlights

  • हौसा और बिरता जातीय समूहों के बीच झड़प
  • एक किसान की हत्या के बाद शुरू हुईं झड़पें
  • क्षेत्र में सैन्य और आरएसएफ को किया गया तैनात

Sudan: सूडान में एक बार फिर खूनी झड़प का मामला सामने आया है। सूडान के दक्षिणी प्रांत में दो कबायली समूहों के बीच झड़प में कम से कम 31 लोग मारे गए। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। देश में पिछले वर्ष एक अक्टूबर को हुए सैन्य तख्तापलट के बाद से देश में जारी उथल-पुथल के मद्देनजर रक्तपात की यह नवीनतम घटना है। 

स्थानीय सरकार की ओर से शुक्रवार देर रात जारी बयान के मुताबिक, ब्लू नील प्रांत में हौसा और बिरता जातीय समूहों के बीच झड़पें इस सप्ताह की शुरुआत में एक किसान की हत्या के बाद शुरू हुईं। सूडान की चिकित्सक समिति के मुताबिक, क्षेत्र में अधिक सैनिकों की तैनाती के बावजूद शनिवार दोपहर को संघर्ष जारी रहा। स्थानीय सरकार ने क्षेत्र में शांति बनाए रखने के लिए सैन्य और अर्धसैनिक रैपिड सपोर्ट फोर्स (आरएसएफ) को तैनात किया। 

रोजेयर्स शहर में 16 दुकानों को नुकसान पहुंचाया गया 

अधिकारियों ने रात का कर्फ्यू भी लगा दिया है। स्थानीय सरकार ने कहा कि झड़प में कम से कम 39 लोग घायल हो गए और रोजेयर्स शहर में करीब 16 दुकानों को नुकसान पहुंचाया गया। चिकित्सा समूह ने बताया कि प्रांत में आपातकालीन और जीवन रक्षक दवाओं की कमी के बीच शनिवार को और घायलों को अस्पतालों में लाया गया। उन्होंने राजधानी खार्तूम में अधिकारियों को घायल लोगों के उपचार में मदद के लिए बुलाया है। 

सत्तारूढ़ सेना के विरुद्ध प्रदर्शन में 113 लोगों की मौत 

वहीं, बीत दिनों सूडान की राजधानी खार्तूम में सत्तारूढ़ सेना के विरुद्ध प्रदर्शन में नौ लोगों के मारे जाने के एक दिन बाद बड़ी संख्या में लोगों ने सड़कों पर प्रदर्शन किया। अमेरिका और अन्य देशों ने पूर्वी अफ्रीका के इस देश में हिंसा की निंदा की थी। ये रैली कई महीनों में हुई सबसे बड़ी रैली थी। सूडान के सैन्य शासन ने विरोध प्रदर्शन कर रहे लोगों पर जबरदस्त कार्रवाई की थी, जिसमें अब तक 18 बच्चों समेत 113 लोगों की मौत हो चुकी है। 

वहीं, पिछले महीने सूडान के युद्ध प्रभावित दारफुर प्रांत में जातीय संघर्ष में करीब 100 लोगों की मौत हो गई थी। संयुक्त राष्ट्र की शरणार्थी एजेंसी और समुदाय के एक नेता ने यह जानकारी दी थी। 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here