सोलोमन आइलैंड डील के बाद चीन की नजर अब किरिबाती और वानुआतु पर, US समेत कई देशों की बढ़ी टेंशन


नई दिल्ली:  चीन (China) लगातार पैसेफिक इलाके (Pacific Region) में अपन प्रभाव बढ़ाने में जुटा है. अमेरिका (America) और सहयोगी देशों के अधिकारियों के मुताबिक सोलोमन आइलैंड (Solomon Islands ) से समझौते के बाद चीन दो ओर देशों से इसी तरह की समझौते करने के कगार पर है.

चीन की किरिबाती के साथ बातचीत अग्रिम स्तर पर जारी है. किरिबाती आइलैंड अमेरिका के हवाई राज्य से सिर्फ 3 हजार किलोमीटर की दूरी पर है, जहां अमेरिकी सेना की इंडो-पैसेफिक कमांड का हेडक्वार्टर है.

किरिबाती की सरकार चीन के साथ किसी भी तरह की सुरक्षा समझौते से इंकार करती रही है, लेकिन विपक्षी पार्टियां ने इस समझौते के खिलाफ अभी से बगावती सुर दिखाने शुरु कर दिए हैं.

फिर से शुरू हो सकता है स्पेस ट्रेकिंग सिस्टम
चीन इससे पहले किरिबाती में एक स्पेस ट्रेकिंग स्टेशन पर काम कर रहा था. लेकिन 2003 में ताइवान के साथ राजनयिक संबंध स्थापित करने के चलते उसने इस स्टेशन पर काम करना छोड़ दिया था. 2019 में चीन और किरिबाती के बीच फिर से राजनयिक संबंध स्थापित हुए. अब इस स्टेशन पर फिर से काम शुरू होने की उम्मीद है.

चीन ने हाल ही में सोलोमन आईलैंड के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए थे. एक्सपर्ट के मुताबिक इस समझौते से चीन को आस्ट्रेलिया के निकट एक नेवल बेस बनाने की अनुमति भी मिल सकती है.

दुनिया भर में मच गया था हड़कंप
सोलोमन आईलैंड से हुए समझौते में चीन को जरुरत पड़ने पर पुलिस और सेना भेजने की अनुमति भी दी गई थी. इस समझौते से दुनिया भर में हड़कंप मच गया था. चीन की विस्तारवादी नीतियों के चलते अमेरिका जापान,आस्ट्रेलिया,भारत और अन्य देश पहले से ही आंशकित हैं. अमेरिकी अधिकारियों का मानना है कि किरिबाती और वानुआतु से समझौता सोलोमन आइलैंड से हुए समझौते जैसा ही होने की उम्मीद है.

चीन ने इस इलाके में अपने प्रसार को लगातार बढ़ाते हुए वानुआतु के साथ एक अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे को अपग्रेड करने के समझौते पर हस्ताक्षर भी किए हैं. वानुआतु में दूसरे विश्व युद्ध के दौरान अमेरिका का एक बड़ा मिलिट्री बेस था. चीन के पैसेफिक क्षेत्र में अपना प्रभाव बढाने से क्षेत्र के कई देशो में चिंता बढ़ा दी है.

Tags: China, World news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here