36 साल बाद हत्यारे ने कबूला अपना गुनाह, अखबार बांटने के समय गायब हो गई थी महिला


ग्रेनोबल (फ्रांस). आज से 36 साल पहले फ्रांस के एक छोटे-से शहर अल्पाइन से एक 25 साल की महिला गायब हो जाती है. उसका पति, रिश्तेदार और पुलिस तमाम कोशिश करते हैं, मगर वह नहीं मिलती है. उस महिला का नाम मैरी-थेरेसे बोनफंती था. वह शहर में अखबार बांटने का काम करती थी. जिस दिन वह लापता हुई, उस दिन मैरी-थेरेसे ग्रेनोबल के उत्तर-पूर्वी इलाके पोंटचार्रा में अखबार बांटने गई हुई थी. उस दिन वह काम से घर नहीं लौटी. वह कहां गई और उसके साथ क्या हुआ? यह किसी को पता नहीं चला. फिर बाद में पता चला कि उसकी हत्या हुई है. मगर पुलिस को उसकी लाश कभी नहीं मिली.

मैरी की हत्या किसने की? इस राज से पर्दा 36 साल बाद उठा. एनडीटीवी ने न्यूज एजेंसी एएफपी के हवाले से खबर दी है कि घटना के 36 साल बाद खुलासा हुआ कि जिस दिन मैरी-थेरेसे लापता हुई थी, उसी दिन उसकी हत्या हो गई थी. बीते गुरुवार को फ्रांसीसी अभियोजकों ने कहा कि उन्होंने 1980 के दशक में लापता हुई दो बच्चों की मां मैरी-थेरेसे के मामले को हल कर लिया है. स्थानीय अभियोजक एकिर वैलेंट ने कहा कि मैरी की हत्या के मामले एक शख्स को गिरप्तार किया गया था. हिरासत में पूछताछ के दौरान उस शख्स ने अपना गुनाह कबूल कर लिया.

शक के आधार पर हुई थी गिरफ्तारी
आरोपी हिंसक चरित्र का था, लिहाजा उसे शक के आधार पर हिरासत में लिया गया था. अभियोजकों का मानना है कि हत्या विवाद की वजह से किया गया था. मैरी-थेरेसे बोनफंती का यह मामला लंबे समय से ठंडे बस्ते में पड़ा हुआ था. लेकिन साल 2020 में उसकी फैमिली और पति के द्वारा चलाई गई मुहिम की वजह से मामले को फिर से खोला गया. इस तरह 36 साल बाद मैरी के हत्यारे का पता चला.

Tags: Crime News, France, Murder case



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here