77 साल पहले जंग में हुई थी बर्बादी, अब जर्मनी से 103 लाख करोड़ रुपये मांगेगा पोलैंड


Poland, Poland Germany, Poland Germany War Reparations, Poland War Reparations- India TV Hindi News
Image Source : AP
दूसरे विश्व युद्ध के दौरान पोलैंड के करीब 60 लाख नागरिक मारे गए थे जिनमें 30 लाख यहूदी थे।

Highlights

  • दूसरे विश्व युद्ध के दौरान पोलैंड के करीब 60 लाख नागरिक मारे गए थे।
  • नाजियों ने जंग के दौरान पोलैंड में 30 लाख यहूदियों को मारा था।
  • इस मुद्दे को लेकर जर्मनी और पोलैंड में तनाव पैदा हो गया है।

वारसा: दूसरे विश्व युद्ध को खत्म हुए 7 दशक से ज्यादा का समय बीत चुका है, लेकिन उससे हुई बर्बादी का ख्याल आज भी लोगों को है। उस लड़ाई में जिन देशों ने सबसे ज्यादा तबाही झेली थी उनमें पोलैंड भी शामिल था। पोलैंड को जर्मनी के तानाशाह हिटलर की फौजों ने लड़ाई में बुरी तरह रौंदा था और इस देश के 60 लाख से ज्यादा लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी थी। अब जंग खत्म होने के करीब 77 साल बाद पोलैंड ने तय किया है कि वह जर्मनी से मुआवजे की मांग करेगा।

पौलैंड मांगेगा 103 लाख करोड़ रुपये का मुआवजा

पोलैंड के सत्तारुढ़ दल के नेता जेरोस्लाव काजिंस्की ने गुरुवार को कहा कि सरकार दूसरे विश्व युद्ध के दौरान नाजियों के हमले और उनके देश पर कब्जे के लिए जर्मनी से 1300 अरब अमेरिकी डॉलर (लगभग 103 लाख करोड़ रुपये) के मुआवजे की मांग करेगी। काजिंस्की ने कहा कि मुआजवा मांगना पोलैंड का ‘दायित्व’ है। वह नाजी जर्मन के कब्जे से देश को हुए नुकसान के संबंध में लंबे समय से प्रतीक्षित रिपोर्ट जारी किए जाने के मौके पर बोल रहे थे। काजिंस्की ने कहा, ‘हमने न सिर्फ रिपोर्ट तैयार की बल्कि आगे के कदमों के बारे में भी फैसला किया है।’

Poland, Poland Germany, Poland Germany War Reparations, Poland War Reparations

Image Source : AP

जेरोस्लाव काजिंस्की ने कहा कि सरकार जर्मनी से 1300 अरब अमेरिकी डॉलर के मुआवजे की मांग करेगी।

2017 से हो रहा था इस रिपोर्ट पर काम
बता दें कि काजिंस्की पोलैंड के मुख्य नीति निर्माता हैं। पोलैंड की दक्षिणपंथी सरकार की दलील है कि उनका देश दूसरे विश्व युद्ध का पहला शिकार था और उसे पड़ोसी जर्मनी द्वारा पर्याप्त मुआवजा नहीं दिया गया है और अब जर्मनी यूरोपीय संघ के प्रमुख भागीदारों में से एक है। दूसरा विश्व युद्ध एक सितंबर 1939 को शुरू हुआ था जब नाजी जर्मनी ने पोलैंड पर हमला किया था और 5 साल से ज्यादा समय तक अपने कब्जे में रखा था। करीब 30 अर्थशास्त्रियों, इतिहासकारों और अन्य एक्सपर्ट्स की एक टीम 2017 से इस रिपोर्ट पर काम कर रही थी।

पोलैंड में मारे गए थे 30 लाख यहूदी
इस मुद्दे को लेकर जर्मनी और पोलैंड में तनाव पैदा हो गया है। जर्मनपोलैंड सहयोग के लिए जर्मनी की सरकार के अधिकारी डाइटमार नीटान ने एक बयान में कहा एक सितंबर जर्मनी के लिए शर्म का दिन है जो हमें बार-बार याद दिलाता है कि उसके द्वारा किए गए अपराधों को नहीं भूला जा सकता। उन्होंने कहा कि यह हमारे इतिहास का सबसे काला अध्याय है और अब भी द्विपक्षीय संबंधों को प्रभावित करता है। दूसरे विश्व युद्ध के दौरान पोलैंड के करीब 60 लाख नागरिक मारे गए थे जिनमें 30 लाख यहूदी थे।

Latest World News





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here