Abortion law in America: अमेरिका में बैन हो सकता है गर्भपात, 50 साल पुराना फैसला पलट सकता है सुप्रीम कोर्ट, जगह-जगह प्रदर्शन और नारेबाजी


Ruckus in America over abortion law- India TV Hindi
Image Source : TWITTER
Ruckus in America over abortion law

Highlights

  • अमेरिका में बैन हो सकता है गर्भपात
  • 50 साल पुराना फैसला पलट सकता है सुप्रीम कोर्ट
  • विरोध में जगह-जगह प्रदर्शन और नारेबाजी

Abortion law in America: अमेरिका में महिलाएं रैलियां निकालकर विरोध कर रही हैं। व्हाइट हाउस और अमेरिकी संसद कैपिटल हिल के सामने भी प्रदर्शन किया गया। न्यूयॉर्क के फोली स्क्वायर पर हज़ारों लोगों ने नारेबाजी की। सड़क पर जाम लगा दिया। लॉस एंजिलिस में तो प्रर्दशनकारियों और पुलिस के बीच भिंड़त हो गई। आखिर अमेरिका में इन दिनों ये सब हो क्यों रहा है? क्या है वजह? हम आपको बताते हैं।

अमेरिका में गर्भपात कानून को लेकर सुप्रीम कोर्ट का मसौदा लीक होने से हंगामा हो रहा है। खबर है कि अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट गर्भपात के संवैधानिक अधिकार से जुड़े 50 साल पुराने अपने फैसले को पलट सकता है। जिसको लेकर बवाल हो रहा है। 1973 में सुप्रीम कोर्ट ने गर्भपात के एक मामले में फैसला सुनाते हुए कहा था कि- ‘गर्भपात कराना है या नहीं, ये तय करना महिला का अधिकार है।’ ये फैसला नॉर्मा मैककॉरवी नाम की महिला की अर्जी पर आया था। वो टेक्ससा में रहती थीं, जहां गर्भपात असंवैधानिक है। अदालती कार्यवाही में उनको ही ‘जेन रो’ नाम दिया गया है।  

1973 में गर्भपात को वैध ठहराया 

अब खबर है कि सुप्रीम कोर्ट 1973 के अपने फैसले को पलट देगा, जिसमें गर्भपात को वैध ठहराया गया था। यानी इस फैसले के बाद अमेरिका में गर्भपात कराना गैरकानूनी हो जाएगा। 1973 के फैसले को ‘रो वर्सेज वेड’ के नाम से जाना जाता है। लोग गर्भपात के फैसले को पलटने के खिलाफ जगह-जगह विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। 

अमेरिका में बैन हो सकता है गर्भपात

अगर अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट ‘रो बनाम वेड’ फैसले को पलटता है, तो भी सभी राज्यों में गर्भपात एकदम से गैरकानूनी नहीं होगा। राज्य तय करेंगे कि वे इसे कानूनी बनाते हैं या नहीं। आशंका ये है कि अलबामा, जॉर्जिया, इंडियाना समेत अमेरिका के 24 राज्य गर्भपता बैन करने वाले हैं। कोर्ट के फैसले के बाद तेजी से इस दिशा में आगे बढ़ेंगे। 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here