China: कोरोना की वजह वुहान में फिर लगा लॉकडाउन, 8 लाख लोगों के घरों से निकलने पर पाबंदी


कोरोना की वजह वुहान में फिर लगा सख्त लॉकडाउन- India TV Hindi News

Image Source : FILE
कोरोना की वजह वुहान में फिर लगा सख्त लॉकडाउन

Highlights

  • वुहान में फिर लगा दिया गया सख्त लॉकडाउन
  • इस हफ्ते सामने आए कोरोना के 20 से 25 मामले
  • बीते 2 हफ़्तों में वुहान में सामने आए 200 से ज्यादा मामले

China: कोरोना वायरस ने दुनियाभर में भयानक तबाही मचाई। संक्रमण के शुरूआती दौर पर पूरी दुनिया थम गई थी। दुनियाभर के तमाम देशों में लॉकडाउन लगा दिया गया था। दुनियाभर के तमाम डॉक्टरों को जानकारों को समझ ही नहीं आ रहा था कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को कैसे रोका जाए। ज्यादातर जगहों पर सम्पूर्ण तालाबंदी कर दी गई थी। हालांकि जैसे-जैसे कोरोना का संक्रमण कम हुआ लॉकडाउन खुलना शुरू हो गया। लेकिन चीन, जहां कोरोना का पहला मामला सामने आया था, वहां अभी भी सख्ती बरती जा रही है। 

वुहान में फिर लगा दिया गया सख्त लॉकडाउन  

कोरोना महामारी के नए सिरे से सिर उठाने के बाद चीन के वुहान शहर में तीन साल बाद फिर लॉकडाउन लगा दिया गया है। वुहान में कोरोना वायरस का दुनिया का पहला मामला सामने आया था। इस हफ्ते वुहान में कोरोना के 20 से 25 नए मामले दर्ज हुए हैं। 2019 में भी कोरोना का पहला केस मिलने के बाद वुहान में लॉकडाउन लगाया गया था। अब एक बार फिर कई मामले सामने आए हैं, इसलिए लॉकडाउन लगा दिया गया है। 

इस हफ्ते सामने आए कोरोना के 20 से 25 मामले 

इस सप्ताह वुहान में कोरोना के 20 से 25 नए मामले सामने आए हैं, हालांकि इस महामारी के पूर्व अनुभवों को देखते हुए यह संख्या मामूली है, लेकिन चीन में जीरो कोविड नीति लागू है, इसलिए वहां तुरंत काबू करने के लिए लॉकडाउन व अन्य सख्त इंतजाम किए जाते हैं। जीरो कोविड नीति के तहत एक भी कोरोना संक्रमित मिलने पर पूरे इलाके में लॉकडाउन कर दिया जाता है। 

बीते 2 हफ़्तों में वुहान में सामने आए 200 से ज्यादा मामले 

वुहान में ज्यादा संक्रमण वाले इलाकों की इमारतों को सील किया गया है। चीन में कोरोना संक्रमण फिर तेजी से बढ़ रहा है। गुरुवार को तीसरे दिन भी 1,000 से ज्यादा नए मामले सामने आए। बीते दो सप्ताह में वुहान में 240 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं, इसलिए इस जिले के आठ लाख से ज्यादा लोगों को 30 अक्तूबर तक  घरों में ही रहने का आदेश दिया है।

Latest World News





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here