Coronavirus Origin: चीन की वुहान मार्केट से निकले थे 1 के बजाय 2 कोरोना वायरस, दुनियाभर में तबाही मचाने वाली बीमारी पर बड़ा खुलासा


China Coronavirus Origin Wuhan- India TV Hindi News
Image Source : TWITTER
China Coronavirus Origin Wuhan

Highlights

  • सबसे पहले चीन के वुहान से फैला कोरोना वायरस
  • इस मार्केट में बेचे जाते हैं जिंदा जानवर
  • जानवरों से इंसानों में फैला था कोरोना वायरस

Coronavirus Origin: कोरोना वायरस की उत्पत्ति को लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है। इस वायरस ने दुनियाभर में लाखों लोगों की जान ली है और करोड़ों लोग इससे संक्रमित हुए हैं। एक नई रिसर्च में शोधकर्ताओं को पता चला है कि यह संभव है कि चीन की वुहान मार्केट से एक नहीं बल्कि दो अलग-अलग कोरोना वायरस फैले हों। इस बाजार में जानवरों की बिक्री होती है। शोधकर्ताओं का कहना है कि ऐसा हो सकता है कि यहां जानवरों से ये वायरस इंसानों में फैला हो और फिर इसने पूरी दुनिया को ही अपनी चपेट में ले लिया। जून की शुरुआत में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने सिफारिश की थी कि वैज्ञानिक कोरोना वायरस के सभी संभावित स्रोतों का पता लगाने के लिए अनुसंधान जारी रखें, जिसमें लैब लीक भी शामिल है।

 
सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार, दो रिसर्च में अलग-असद अप्रोच का पालन किया गया, लेकिन उनका नतीजा एक ही आया। नतीजा चीन के वुहान शहर की हुनान सीफूड मार्केट पर आकर रुका। इस मार्केट को कोरोना वायरस महामारी का केंद्र माना जाता है। ये रिसर्च मंगलवार को जरनल साइंस में प्रकाशित की गई है। इस रिसर्च में दुनियाभर के वैज्ञानिकों ने मैपिंग टूल और सोशल मीडिया रिपोर्ट्स का इस्तेमाल किया। उन्होंने पाया कि हालांकि सटीक परिस्थितियों का पता लगाना बहुत मुश्किल है, वायरस शायद साल 2019 के आखिरी दिनों में वुहान मार्केट में जिंदा बेचे गए जानवरों में मौजूद था।

जानवरों के बीच तेजी से फैला वायरस

इन जानवरों को एक दूसरे के काफी करीब रखा गया था, जिससे इनमें वायरस तेजी से फैल गया। हालांकि इस रिसर्च में अभी तक ये पता नहीं चल सका है कि कौन सा जानवर सबसे पहले बीमार पड़ा था। शोधकर्ताओं ने पता लगाया है कि कोविड-19 के शुरुआती मामले वुहान बाजार के दुकनदारों में केंद्रित थे। ये दुकनदार जिंदा जानवरों की बिक्री कर रहे थे। इसके बाद वो लोग भी कोरोना वायरस का शिकार बनते चले गए, जो इस मार्केट में खरीदारी करने के लिए आ रहे थे। वैज्ञानिकों का मानना है कि दो अलग-अलग तरह के वायरस जानवरों के बीच फैला। फिर यही वायरस जानवरों से इंसानों तक पहुंच गए।

मार्केट में जिंदा बेचे जाते हैं जानवर

रिसर्च में कहा गया है, ’20 दिसंबर से पहले सामने आए सभी 8 मामले मार्केट के पश्चिमी हिस्से के हैं।’ इस इलाके में जानवरों की भी बिक्री होती है। यहां ऐसी पांच दुकानें हैं, जहां जानवरों को जिंदा बेचा जाता है और काटा जाता है। ऐसा भी माना जा रहा है कि यहीं से कोरोना वायरस इंसानों के बीच फैला है। रिसर्च की सह-लेखकर क्रिस्टीन एंडरन का कहना है कि इन दुकानों का पता लगाना बहुत खास काम था। एक अन्य सह-लेखक, अमेरिकी वैज्ञानिक माइकल वोरोबे ने कहा कि इन मामलों की जांच में एक असामान्य पैटर्न का पता चला है, जो बहुत स्पष्ट था।

सभी तरह के लोगों की जांच की

अपनी इस रिसर्च में शोधकर्ताओं ने उन लोगों में मिले कोरोना वायरस के मामलों की जांच की है, जिनका वुहान की मार्केट से कोई लेना देना नहीं है। साथ ही उनके मामलों की भी जांच की है, जो या तो वुहान की इस मार्केट में काम करते हैं या फिर इसके पास रहते हैं। इसमें पता चला है कि वायरस पहले उन लोगों को हुआ जो यहां काम करते हैं। उसके बाद यह स्थानीय समुदाय में हर जगह फैल गया। उन्होंने बताया कि ये दुकानदार आमतौर पर स्थानीय दुकानों में भी जाते हैं। और वहीं पर उन्होंने लोगों को संक्रमित किया। इसी वजह से वायरस हर जगह फैल गया।

Latest World News





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here