Earthquake In Myanmar: म्यांमार में महसूस किए गए भूकंप के झटके, रिक्टर स्केल पर 5.0 नापी गई तीव्रता


Earthquake In Myanmar- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO
Earthquake In Myanmar

Highlights

  • म्यांमार में सुबह भूकंप के तेज झटके महसूस हुए
  • रिक्टर स्केल पर तीव्रता 5.0 मापी गई
  • म्यांमार में भूकंप सुबह 7:56 बजे आया

Earthquake In Myanmar: म्यांमार में आज रविवार सुबह भूकंप आया। सुबह 7:56 पर आए भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 5.0 से दर्ज किया गया। भूकंप विज्ञान केंद्र के मुताबिक ये भूकंप आज सुबह यांगून के 260 किमी दक्षिण पश्चिम में आया।

समाचार एजेंसी एएनआई की एक खबर के मुताबिक चीन के शिनजियांग में भी रविवार को 5.2 तीव्रता का भूकंप आया है। चीन अर्थक्वेक नेटवर्क सेंटर (CENC) के मुताबिक चीन के शिनजियांग उइगर स्वायत्तशासी इलाके में ये भूकंप बीजिंग के स्थानीय समयानुसार सुबह 6 बजे के करीब आया। इस भूकंप की गहराई करीब 10 किलोमीटर थी। शिनजियांग में शनिवार को भी एक हल्की तीव्रता का भूकंप दर्ज किया गया था।

वहीं कल ईरान में भी भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए थे। रॉयटर्स के मुताबिक, भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6.1 थी। भूकंप की वजह से 3 लोगों की मौत और 8 लोग घायल हो गए थे। मिली जानकारी के मुताबिक, ये भूकंप ईरान में देर रात करीब 1.30 बजे के आस-पास आया है, जिसकी गहराई 10 किमी (6.21 मील) थी। 

अफगानिस्तान में भी हाल ही में आया था भूकंप

अफगानिस्तान में भी हालही में भूकंप के झटके महसूस किए थे। इस भूकंप की वजह से एक हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी और 1500 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। ये भूकंप इतना तेज था कि इसे भारत और पाकिस्तान में भी महसूस किया गया था। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 6.1 थी। इसका केंद्र अफगानिस्तान के दक्षिणपूर्व में था। ये भूकंप पक्तिका और खोस्त में आया था। इस भूकंप की वजह से सैकड़ों बच्चों की भी मौत हो गई थी और हजारों की संख्या में बच्चों ने अपने माता-पिता को खो दिया। ऐसे में कई संगठन उन बच्चों की मदद के लिए सामने आए, जो अनाथ हो गए थे।

भूकंप क्यों आता है ?

पृथ्वी के अंदर 7 प्लेट्स होती हैं, जो लगातार घूमती हैं। जब ये प्लेट्स किसी प्वाइंट्स पर टकराती हैं, तो प्लेट्स के कोने मुड़ जाते हैं और वहां प्रेशर बनने लगता है। ऐसे में जब प्लेट्स टूटने की नौबत आ जाती है तो एनर्जी बाहर आने का रास्ता खोजने लगती है। जिसके बाद भूकंप आता है। 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here