Joe Biden: अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन को सऊदी अरब जाने से कौन रोकना चाहता है?


US President Joe Biden- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO
US President Joe Biden

Highlights

  • मेरी सऊदी अरब यात्रा के फैसले को लेकर कई लोग असहमत हैं: बाइडन
  • पर मानवाधिकारों पर मेरे विचार स्पष्ट हैं: बाइडन
  • मौलिक स्वतंत्रता हमेशा एजेंडे में होता है और इस यात्रा के दौरान भी होगा: बाइडन

Joe Biden: सऊदी अरब के खराब मानवाधिकार रिकार्ड को लेकर आलोचनाओं के बीच देश की यात्रा की तैयारी कर रहे अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) ने अपने फैसले का बचाव करते हुए कहा कि उन्होंने लंबे समय से सुधारों का समर्थन किया है और यह कोशिश की कि पुराने रणनीतिक साझेदार के साथ संबंधों को नया रूप दिया जाए, संबंध खराब नहीं हों। ‘द वाशिंगटन पोस्ट’ में शनिवार रात ऑनलाइन पोस्ट किए गए लेख में, बाइडन ने पश्चिम एशिया के घटनाक्रमों की ओर इशारा किया और दावा किया कि इसके चलते ट्रंप प्रशासन के समय की तुलना में इस क्षेत्र में अधिक स्थिरता आयी है और यह अधिक सुरक्षित हुआ है। हालांकि विशेष रूप से सऊदी अरब( Saudi Arab) के संबंधों का उनका चित्रण रक्षात्मक प्रतीत हुआ, विशेष रूप से ऐसे समय में जब अमेरिका में कुछ लोगों ने यह मांग की कि वह एक यात्रा के माध्यम से सरकार को वैधता प्रदान नहीं करें। 

मेरे सऊदी अरब यात्रा से कई लोग असहमत हैं: बाइडन

बाइडन ने अमेरिकी ताकत और सुरक्षा को रूसी आक्रमण और चीन से प्रतिस्पर्धा का मुकाबला करने से जोड़ा और यह दलील दी कि सऊदी अरब जैसे देशों के साथ सीधे जुड़ने से उन प्रयासों को बढ़ावा देने में मदद मिल सकती है। बाइडन ने कहा कि उनका उद्देश्य अमेरिका-सऊदी साझेदारी को मजबूत करना तथा मौलिक अमेरिकी मूल्यों को बरकरार रखते हुए पारस्परिक हित एवं जिम्मेदारियों के आधार पर आगे बढ़ना है। बाइडन ने लिखा, ”मुझे पता है कि सऊदी अरब की यात्रा करने के मेरे फैसले से कई लोग असहमत हैं। मानवाधिकारों पर मेरे विचार स्पष्ट हैं और जब भी मैं विदेश यात्रा करता हूं, मौलिक स्वतंत्रता हमेशा एजेंडे में होता है और यह इस यात्रा के दौरान भी होगा।”

‘हत्या में शामिल सऊदी बलों के खिलाफ प्रतिबंध लगाये’

उल्लेखनीय है कि बाइडन का यह लेख ‘द वाशिंगटन पोस्ट’ के ‘संडे ओपिनियन सेक्शन’ में दिखाई दिया, जिसके लेखक रहे जमाल खशोगी की 2018 में सऊदी एजेंटों द्वारा हत्या कर दी गई थी। इस मुद्दे पर, बाइडन ने दलील दी कि उन्होंने हत्या में शामिल सऊदी बलों के खिलाफ प्रतिबंध लगाये और विदेशों में असहमति रखने वालों को परेशान करने वाले किसी भी व्यक्ति के लिए वीजा प्रतिबंध जारी किए।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here