बलात्कार के आरोपी लिंगायत साधु शिवमूर्ति मुरुघा शरणारू के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी

बलात्कार के आरोपी लिंगायत साधु शिवमूर्ति मुरुघा शरणारू के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी

बैंगलोर. कर्नाटक पुलिस ने लिंगायत संत शिवमूर्ति मुरुघा शरणारू के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया है। नाबालिगों के यौन उत्पीड़न के आरोप में संत पर पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया था। शिवमूर्ति मुरुघा शरणारू कर्नाटक के चित्रदुर्ग में एक प्रमुख लिंगायत मठ के प्रमुख पुजारी हैं।

साधु की गिरफ्तारी की मांग को लेकर हो रहे विरोध के बीच कर्नाटक पुलिस ने गुरुवार को यौन उत्पीड़न मामले में मठ द्वारा संचालित स्कूल हॉस्टल के मुख्य वार्डन को हिरासत में ले लिया है. इस मामले में पुलिस की यह पहली दंडात्मक कार्रवाई है।

दो नाबालिगों की ओर से शिकायत दर्ज करने के बाद मैसूर शहर पुलिस ने शिवमूर्ति मुरुघा शरणारू के खिलाफ मामला दर्ज किया था। उस पर यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (POCSO) अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

शिकायत के अनुसार, मठ द्वारा संचालित स्कूल में पढ़ने वाली 15 और 16 साल की दो लड़कियों का साधु द्वारा साढ़े तीन साल से अधिक समय तक यौन शोषण किया गया था।

पीड़ित 24 जुलाई को हॉस्टल से निकले थे और 25 जुलाई को कॉटनपेट पुलिस स्टेशन में मिले थे। 26 अगस्त को मैसूर के नज़रबाद पुलिस स्टेशन में लिंगायत साधु के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here