Netaji Statue India Gate: नेताजी सुभाष चंद्र बोस की बेटी ने की अपील- ‘मेरे पिता की अस्थियां तोक्यो से लाई जाए भारत’


Anita Bose Faf- India TV Hindi News
Image Source : FILE PHOTO
Anita Bose Faf

Highlights

  • नेताजी सुभाष चंद्र बोस की बेटी ने पीएम मोदी का जताया आभार
  • बोस की 28 फुट ऊंची प्रतिमा का अनावरण करने पर जताया आभार
  • पिता की अस्थियां तोक्यो से भारत लाने की दिशा में काम करने का अनुरोध किया

Netaji Statue India Gate: नेताजी सुभाष चंद्र बोस की बेटी अनिता बोस फाफ ने देश में राजनीतिक दलों से उनके पिता की अस्थियां तोक्यो के रेनकोजी मंदिर से भारत लाने की दिशा में काम करने का अनुरोध किया। उन्होंने इसके साथ ही नयी दिल्ली में दिग्गज स्वतंत्रता सेनानी की प्रतिमा का अनावरण करने के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया। अर्थशास्त्री बोस-फाफ ने जर्मनी से एक बयान जारी कर कहा, ‘‘मेरे पिता की आजाद भारत में जीने की इच्छा थी। दुखद रूप से उनके असामयिक निधन ने उनकी यह इच्छा पूरी नहीं होने दी। मुझे लगता है कि कम से कम उनकी अस्थियां तो भारत की सरजमीं को छू पाए इसलिए मैं, भारत के लोगों तथा भारत के सभी राजनीतिक दलों से अपने पिता की अस्थियां भारत लाने के लिए गैर-राजनीतिक तथा द्विदलीय रूप से एकजुट होने की अपील करती हूं।’’ 

PM मोदी से मुलाकात करना चाहती हैं अनिता

उन्होंने पहले कहा था कि वह इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हो पाएंगी लेकिन वह रेनकोजी मंदिर से अपने पिता की अस्थियां भारत लाने की शर्तों और प्रक्रियाओं पर चर्चा करने के लिए प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात करना चाहती हैं। उनका दावा है कि नेताजी की अस्थियां तोक्यो के रेनकोजी मंदिर में रखी हैं। बोस-फाफ ने कहा, ‘‘मुझे यह जानकर खुशी हो रही है कि मेरे पिता नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा का नयी दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा आठ सितंबर को अनावरण किया जाएगा तथा उन्हें गौरवशाली स्थान मिलेगा।’’ 

बोस की 28 फुट ऊंची प्रतिमा का अनावरण 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शाम 7 बजे इंडिया गेट के पीछे बनी छतरी के नीचे लगाई गई नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 28 फुट ऊंची प्रतिमा का अनावरण करेंगे। ग्रेनाइट पत्थर से बनी ये मूर्ति देश के सबसे बड़े मोनोलिथ ( एक ही पत्थर को तराश कर बनाई गई प्रतिमा) में से एक होगी।

Latest World News





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here