North Korea News: कोरोना से जूझ रहा उत्तर कोरिया एक और महामारी की चपेट में, जानिए पूरे देश में कौन सी बिमारी फैली


New Epidemic in North America- India TV Hindi
Image Source : REUTERS
New Epidemic in North America

Highlights

  • कोरोना के बीच उत्तर कोरिया अब एक नई महामारी से जूझ रहा है
  • नेता किम जोंग उन पीड़ित रोगियों की मदद करने के लिए जगह-जगह दवाएं भेंज रहे हैं
  • उन्होंने संदिग्ध मरीजों को तुरंत क्वारंटीन करने का आदेश दिया है

North Korea News: उत्तर कोरिया अभी कोरोना से जूझ ही रहा था कि एक और महामारी ने दस्तक दे दी है। देश के कई इलाकों में यह बिमारी बड़े पैमाने पर फैल रही है। इस बिमारी को कंट्रोल करने में उत्तर कोरिया की स्वास्थय व्यवस्था ने घुटने टेक दिए हैं। वहां के सरकारी मीडिया केसीएनए के मुताबिक इस देश को ‘आंतों की बीमारी’ ने अपने चपेट में ले लिया है। इस बिमारी से कितने लोग प्रभावित हैं फिलहाल इसकी कोई जानकारी नहीं है। एजेंसी ने बीमारी के नाम का खुलासा नहीं किया है लेकिन आंतों की बीमारियां जैसे- टाइफाइड, पेचिश और हैजा जो कि दूषित भोजन, पानी में कीटाणुओं, संक्रमित लोगों के मल के संपर्क में आने के कारण होती हैं उसे ‘एंटेरिक’ कहते हैं।

किम जोंग की परेशानियां बढ़ीं

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने बुधवार को पश्चिमी बंदरगाह शहर हेजू में पीड़ित रोगियों की मदद करने के लिए दवाएं भेजी। देश के प्रमुख अखबार रोडोंग सिनमुन ने अपने मेन पेज पर किम और उनकी पत्नी री सोल जू की दवा को देखते हुए एक तस्वीर छापी थी। किम जोंग उन महामारी को जल्द से जल्द रोकने के लिए सभी कोशीश कर रहे हैं। ऐसे में उन्होंने संदिग्ध मरीजों को तुरंत क्वारंटीन करने का आदेश दिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 45 हजार से अधिक संक्रमित और 73 की मौत

DPRKhealth.org के हेड Ahn Kyung-su ने कहा कि “उत्तर कोरिया में खसरा या टाइफाइड का प्रकोप असामान्य नहीं है। मुझे लगता है कि यह एक संक्रामक बीमारी का प्रकोप है। लेकिन बिमारी के प्रकोप छोड़कर उत्तर कोरिया इस बात पर जोर दे रहा है कि किम अपने लोगों की देखभाल कर रहे हैं।” उन्होंने कहा कि यह चिकित्सा की तुलना में एक राजनीतिक संदेश की तरह है। केसीएनए ने गुरुवार को कहा कि देश के 26 लाख लोगों में से 45 हजार से अधिक लोग बुखार के कारण बीमार पड़ गए हैं और 73 की मौत हो चुकी है।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here