Pakistan News: पूरी तरह कंगाल हुआ पाकिस्तान, छोटी-छोटी जरूरतों के लिए भी दुनिया के सामने फैला रहा हाथ


Pak Army Chief General Bajwa- India TV Hindi News
Image Source : FILE PHOTO
Pak Army Chief General Bajwa

Highlights

  • पूरी तरह कंगाल हुआ पाकिस्तान
  • कर्ज मांगने के लिए फिर फैलाया हाथ

Pakistan News: आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान ने अमेरिका से मदद की गुहार लगाई है। देश के सेना प्रमुख ने अपने देश को अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) से 1.7 अरब डॉलर की अहम किश्त जल्द से जल्द जारी कराने के लिए अमेरिका से अपली की है। कई सरकारी अधिकारियों के अनुसार, ‘जनरल कमर जावेद बाजवा ने अमेरिकी उप विदेश मंत्री वेंडी शरमन के साथ इस मामले पर चर्चा की और अमेरिका से पाकिस्तान की मदद के लिए आईएमएफ में अपने प्रभाव का उपयोग करने की अपील की। सेना प्रमुख द्वारा इस तरह की अपील किया जाना दुर्लभ है।’ 

अमेरिका और पाकिस्तान के संबंधों में तनाव

मुख्य रूप से अफगानिस्तान के मुद्दे के कारण अमेरिका और पाकिस्तान के संबंधों में हालिया वर्षों में तनाव पैदा हो गया है। विशेष रूप से पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान के कार्यकाल में दोनों देशों के संबंध तनावपूर्ण रहे। इमरान खान को अप्रैल में संसद में अविश्वास प्रस्ताव के बाद सत्ता से बाहर कर दिया गया था। तब इमरान खान ने आरोप लगाया था कि उनकी सरकार गिराए जाने के पीछे अमेरिकी साजिश का हाथ है। इमरान ने दावा किया था कि नई सरकार के तहत राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठक और उसके नये बयान ने उनकी बात को साबित कर दिया है। NSC ने इमरान द्वारा बार-बार किए इस गए दावे को खारिज कर दिया था कि अमेरिका ने विपक्षी दलों की मदद से उनकी सरकार गिराई है।

जनरल बाजवा ने अमेरिका से मांगा 1.7 अरब डॉलर

बहरहाल, पाकिस्तान की सेना, जिसने अपने 75 साल के इतिहास के आधे से अधिक समय तक देश पर सीधे शासन किया है, ने अमेरिका के साथ मिलकर काम किया है और अल-कायदा के खिलाफ आतंकवाद से युद्ध में वह एक आधिकारिक सहयोगी थी। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार को पुष्टि की कि बाजवा और शरमन ने बात की थी। मंत्रालय के प्रवक्ता आसिम इफ्तिखार ने कहा, ”बातचीत हो चुकी है, लेकिन इस स्तर पर मुझे यह स्पष्ट जानकारी नहीं है कि इस दौरान क्या बात हुई।” अधिकारियों ने नाम नहीं छापने की शर्त पर शनिवार को एसोसिएटेड प्रेस (एपी) से कहा कि चर्चा आईएमएफ ऋण पर केंद्रित थी। पाकिस्तान और आईएमएफ ने मूल रूप से 2019 में बेलआउट समझौते पर हस्ताक्षर किए थे, लेकिन 1.7 अरब डॉलर की किश्त पर इस साल की शुरुआत से रोक लगी है। 

Latest World News





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here