Queen Elizabeth II: महारानी एलिजाबेथ के जाते ही क्या बंद हो जाएंगे उनकी फोटो वाले नोट? समझिए क्या है क्रोनोलॉजी


Queen Elizabeth II- India TV Hindi News
Image Source : INDIA TV
Queen Elizabeth II

Highlights

  • 7 अरब नोट चलन में हैं जिनका मूल्य 95 अरब डॉलर है
  • यह 17वीं शताब्दी से चली आ रही प्रथा है
  • 20 डॉलर के नोट पर भी महारानी का चित्र अंकित है

Queen Elizabeth II:  ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ II का निधन हो गया। वह काफी लंबे समय से बीमार चल रही थी। 96 साल की उम्र में उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया। महारानी एलिजाबेथ II सबसे लंबे समय शासन करने वाले शासक बनी। महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के बाद उनके बेटे चार्ल्स को नया राजा बनाया गया। चार्ल्स की लगभग उम्र 73 साल हो गई है। महारानी एलिजाबेथ II बाल्मोरल में समर की छुट्टियां बिताने के लिए आई थी इसी जगह पर उनकी निधन हुई। महारानी के निधन के बाद से ब्रिटेन में बड़े बदलाव होने वाले हैं। ब्रिटेन के बैंक नोट और सिक्कों पर दशकों से महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की तस्वीर लगी है। उनका चित्र दुनियाभर में दर्जनों अन्य देशों की मुद्राओं पर भी है जो कि ब्रिटिश साम्राज्य के औपनिवेशिक प्रभाव का द्योतक है।

क्या महारानी के मरने के बाद नोट से तस्वीरें हट जाएगी? 

महारानी के निधन के बाद ब्रिटेन, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और अन्य देशों को अपनी मुद्रा में परिवर्तन करने में समय लगेगा लेकिन इसका यह मतलब नहीं कि एलिजाबेथ के चित्र वाले नोट और सिक्के नहीं चलेंगे। मुद्रा पर अब महारानी की जगह राजा चार्ल्स तृतीय की तस्वीर होगी मगर यह तत्काल संभव नहीं। बैंक ऑफ इंग्लैंड ने कहा कि “वर्तमान में महारानी के चित्र वाली मुद्रा कानूनी तौर पर मान्य रहेगी। आधिकारिक तौर पर दस दिवसीय राष्ट्रीय शोक के बाद ब्रिटेन के केंद्रीय बैंक द्वारा मुद्रा के संबंध में घोषणा की जाएगी। ब्रिटेन में आधिकारिक तौर पर सिक्कों का निर्माण करने वाले रॉयल मिंट ने कहा कि महारानी के चित्र वाले सभी सिक्के कानूनी तौर पर चलन के लिए मान्य रहेंगे। रॉयल मिंट की वेबसाइट पर बताया गया कि हम शोक के इस काल में पहले की तरह ही सिक्के बनाते रहेंगे।

सिक्कों के भी चलन होंगे 
7 अरब नोट चलन में हैं जिनका मूल्य 95 अरब डॉलर है। इसके अलावा 29 अरब सिक्के भी लेनदेन और व्यापार में इस्तेमाल किये जाते हैं जिनके कई वर्षों तक चलन में रहने की उम्मीद है। ब्रिटेन के सिक्कों की विशेषज्ञ वेबसाइट कॉइन एक्सपर्ट के मुताबिक, सभी सिक्कों और नोटों को वापस लिए जाने की बजाय, यह प्रक्रिया धीरे-धीरे होगी और महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के चित्र वाली मुद्रा आने वाले कई वर्षों तक चलन में रहेगी। वेबसाइट के अनुसार, राजा चार्ल्स की ताजपोशी के बाद उनकी नई तस्वीर ली जाएगी जिसमें चेहरा बाईं ओर से होगा और यही तस्वीर सिक्कों पर अंकित की जाएगी। गौरतलब है कि महारानी के चित्र में उनका चेहरा दाहिनी ओर देखते हुए था। 

क्या ये देश भी बदल देंगे तस्वीर?
यह 17वीं शताब्दी से चली आ रही प्रथा है जिसके अनुसार नए शासक के चित्र को पिछले शासक की तुलना में विपरीत दिशा से लिया जाता है। अन्य देशों की बात करें तो ऑस्ट्रेलिया और कनाडा आदि देशों की मुद्रा पर भी महारानी का चित्र अंकित है। वेबसाइट के अनुसार, इन देशों में मुद्रा पर तस्वीर बदलने में अधिक समय लग सकता है क्योंकि मूल देश में किसी डिजाइन में परिवर्तन करना आसान होता है मगर दूसरे देश में इसे लागू करने में कठिनाई होती है। 

कनाडा नहीं करेगा कोई बदलाव 
बैंक ऑफ कनाडा ने कहा है कि उसके 20 डॉलर के नोट, जो कि सिन्थेटिक पॉलीमर से बने हैं, आने वाले कई वर्षों तक चलन में रहेंगे। बैंक ऑफ कनाडा ने कहा कि शासक के बदलने पर किसी समय सीमा के भीतर डिजाइन में परिवर्तन करने की कोई कानूनी बाध्यता नहीं है। न्यूजीलैंड के रिजर्व बैंक ने कहा कि वह चार्ल्स की तस्वीर वाली नई मुद्रा जारी करने से पहले महारानी के चित्र वाले सारे सिक्के जारी कर देगा। बैंक ने कहा कि 20 डॉलर के नोट पर भी महारानी का चित्र अंकित है और केवल इसलिए इन नोटों को नष्ट नहीं किया जा सकता कि उनपर महारानी का चित्र है।

Latest World News





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here