Russia Ukraine War News : कीव के पास देसना में रूसी हमले में 87 लोग मारे गए, जेलेंस्की ने किया दावा


Volodymyr Zelenskyy- India TV Hindi
Image Source : AP
Volodymyr Zelenskyy, President Ukraine

Highlights

  • देसना में रूस ने मिसाइलों से किया हमला, बड़े पैमाने पर तबाही-जेलेंस्की
  • रूस ने उनके देश के खिलाफ ‘पूर्ण युद्ध’ छेड़ रखा है-जेलेंस्की

Russia Ukraine War News : यूक्रेन (Ukriane) के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की (Volodymyr Zelenskyy) ने दावा किया है कि राजधानी कीव से 55 किलोमीटर उत्तर में स्थित देसना शहर में पिछले हफ्ते हुए रूसी हमले में 87 लोग मारे गए हैं। उन्होंने कहा कि चेर्निहाइव क्षेत्र में आने वाले देसना में मलबा हटाने का काम पूरा कर लिया गया है और वहां महज चार मिसाइलों के कारण इतने बड़े पैमाने पर तबाही व मौतें हुई हैं। 

जेलेंस्की ने सोमवार को यूक्रेन पर रूसी आक्रमण के तीन महीने पूरे होने से पहले, राष्ट्र के नाम दिए संबोधन में यह टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि 24 फरवरी से लेकर अब तक रूसी सेना यू्क्रेन पर 1,474 मिसाइल हमले कर चुकी है, जिनमें 2,275 अलग-अलग मिसाइलों का इस्तेमाल किया गया है। 

रूस ने 3,000 से ज्यादा हवाई हमले किए 

जेलेंस्की ने कहा कि इस अवधि में रूस ने 3,000 से ज्यादा हवाई हमले किए हैं और अधिकतर हमलों में नागरिक ठिकानों को निशाना बनाया गया है। उन्होंने कहा कि रूस ने उनके देश के खिलाफ ‘पूर्ण युद्ध’ छेड़ रखा है, जिसका मकसद ज्यादा से ज्यादा लोगों को मारना और बुनियादी ढांचे को अधिक से अधिक नुकसान पहुंचाना है। 

रूस पर अधिकतम प्रतिबंध लगाये जाने की अपील 

इससे पहले सोमवार को जेलेंस्की ने सभी रूसी बैंकों पर प्रतिबंध, रूसी तेल के आयात पर रोक और उसके (रूस के) साथ सभी व्यापार रोकने सहित रूस पर ‘‘अधिकतम प्रतिबंध’’ लगाये जाने कीअपील की। विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) की वार्षिक बैठक 2022 को वीडियो लिंक के माध्यम से संबोधित करते हुए जेलेंस्की ने कहा कि यह ऐसा क्षण है जब यह निर्णय लिया जाएगा कि क्या एक ‘बर्बर ताकत’ विश्व को शासित करेगा। 

 रूसी तेल के आयात पर रोक लगाएं

उन्होंने कहा, ‘‘रूस पर अधिकतम प्रतिबंध लगना चाहिए। रूसी तेल के आयात पर रोक होना चाहिए। सभी रूसी बैंकों को प्रतिबंधित किया जाना चाहिए। रूस के साथ कोई व्यापार नहीं होना चाहिए। ’’ राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘मूल्य (वैल्यू) अवश्य मायने रखना चाहिए। ’’ उन्होंने कहा कि यूक्रेन के व्यापार के अवसरों और युद्ध बाद के पुनर्निर्माण कार्य के लिए खुला रहने से असीम संभावना उपलब्ध होगी। 

तालियों की गड़गड़ाहट के साथ स्वागत 

उन्होंने कहा, ‘‘हम साझेदार देशों, शहरों और कंपनियों से किसी खास क्षेत्र या शहर को गोद लेने का आग्रह करते हैं। डेनमार्क और यूरोपीय संघ ने पहले ही इस उद्देश्य के लिए क्षेत्रों को चुन लिया है।’’ जेलेंस्की का यहां मुख्य कांग्रेस हॉल (सम्मेलन भवन) में तालियों की गड़गड़ाहट के साथ स्वागत किया गया। उन्होंने दावोस में मौजूद वैश्विक नेताओं से अपनी व्यापारिक गतिविधियां यूक्रेन में लाने और रूस से हटाने का आग्रह किया। 

दुनिया में गरीबी और निराशा के लिए रूस जिम्मेदार

उन्होंने अफसोस जताया कि क्रीमिया पर रूसी कब्जे के बाद कुछ देशों ने मास्को के साथ पहले जैसे संबंध फिर से बहाल कर रूस के प्रति अपनी आंखें मूंद ली। जेलेंस्की ने विश्व भर में गरीबी और निराशा लाने के लिए रूसी हमले को जिम्मेदार ठहराया तथा रूस द्वारा किये जाने वाले एक और युद्ध के खिलाफ विश्व की सुरक्षा के लिए ठोस कदम उठाने की अपील की। उन्होंने कहा, ‘‘विश्व को एकजुट होना होगा। विश्व एकजुट है और मेरी सिर्फ यही इच्छा है कि विश्व यह एकजुटता नहीं खोये। हमें यह युद्ध जीतने की जरूरत है और हमें सहयोग की जरूरत है।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here