Russia Ukraine War News : मारियुपोल के स्टील प्लांट से अपने सैनिकों की निकासी में जुटा यूक्रेन


Mariupol's steel plant- India TV Hindi
Image Source : AP
Mariupol’s steel plant

Highlights

  • 11 वर्ग किमी से भी ज्यादा क्षेत्र में फैला है मारियुपोल स्टील प्लांट
  • सैनिकों को अलगाववादियों के कब्जे वाले दो शहरों में ले जाया गया

Russia Ukraine War News : मारियुपोल (Mariupol)  में अंतिम ठिकाने की रक्षा करने वाले यूक्रेन (Ukraine) के सैकड़ों सैनिकों को रूस (Russia) समर्थित अलगाववादियों द्वारा नियंत्रित क्षेत्रों में ले जाया गया है और अधिकारी बाकियों को भी मंगलवार को निकालने में लगे रहे। स्टील प्लांट (Steel Plant) से  सैनिकों की निकासी के साथ शहर में यह घेराबंदी की समाप्ति का संकेत हो सकता है जो यूक्रेन के प्रतिरोध का प्रतीक बन चुका है। रूस ने अभियान को सामूहिक आत्मसमर्पण कहा है। वहीं, यूक्रेन ने इस शब्द का इस्तेमाल नहीं किया लेकिन कहा कि उसका अभियान पूरा हो चुका है। 

मारियुपोल शहर में यूक्रेन के सैनिकों के अंतिम गढ़ एक स्टील प्लांट से सोमवार को 260 से ज्यादा सैनिकों को निकाला गया जिनमें से अधिकतर घायल थे। दोनों पक्षों के अधिकारियों ने कहा कि इन सैनिकों को अलगाववादियों के कब्जे वाले दो शहरों में ले जाया गया है। कुछ सैनिक अब भी अजोवस्तल स्टील प्लांट में हैं जिनकी संख्या के बारे में पता नहीं है। यह प्लांट 11 वर्ग किलोमीटर से भी ज्यादा क्षेत्र में फैला हुआ है। 

मारियुपोल शहर पर रूसी सैनिकों का कब्जा 

अब इस स्टील प्लांट को छोड़कर समूचे मारियुपोल शहर पर रूसी सैनिकों का कब्जा हो चुका है। स्टील प्लांट पर पूर्ण कब्जा एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर होगा। यह रूस को युद्ध की अब तक की सबसे बड़ी जीत दिलाएगा और पूर्वी यूक्रेन के औद्योगिक गढ़ में कहीं और आक्रामक कार्रवाई के लिए सैन्य बलों को पहुंचाने में मदद कर सकता है। 

यूक्रेन को जिंदा रहने के लिए अपने नायकों की जरूरत-जेलेंस्की 

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने कहा, ‘‘यूक्रेन को जिंदा रहने के लिए अपने नायकों की जरूरत है। यह हमारा सिद्धांत है।’’ उन्होंने कहा कि गोलाबारी में तबाह हो चुके संयंत्र से निकासी का काम जारी है। जेलेंस्की ने कहा, ‘‘उनमें से कई सैनिक गंभीर रूप से घायल हैं। उन्हें चिकित्सा मदद दी जा रही है। उन्हें घर लाने का काम जारी है और इसके लिए संवेदनशीलता एवं समय की जरूरत है।’’ यूक्रेन की उप रक्षा मंत्री हन्ना मलियार ने कहा कि 260 से अधिक सैनिकों को संयंत्र से निकाला गया जिनमें से 53 गंभीर रूप से घायल थे। वहीं, रूस के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता इगोर कोनाशेनकोव ने कहा कि 265 सैनिक निकाले गए जिनमें से 51 गंभीर रूप से घायल थे। (भाषा)





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here