Russia Ukraine War News: यूक्रेन में हारने पर रूस से भागने की तैयारी में पुतिन, जानिए क्या कहती है रिपोर्ट


Russian President Putin- India TV Hindi News
Image Source : FILE PHOTO
Russian President Putin

Highlights

  • डोनबास जैसे शहरों पर फिर कब्जा कर रहा है यूक्रेन
  • यह जंग जितनी रूस ने सोची थी, उससे काफी ज्यादा बड़ी हो गई है
  • सीरिया जाएंगे तो तुर्की अपने हवाई क्षेत्र से नहीं गुजरने देगा

Russia Ukraine War News: रूस के राष्ट्रपति और उनके दोस्त यदि यूक्रेन का युद्ध हारने पर भागने की तैयारी कर रहे हैं। इस बात का खुलासा मीडिया रिपोर्ट में किया जा रहा है। वैसे भी रूस और यूक्रेन के बीच जंग खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। शुरुआती महीनों में रूस ने यूक्रेन पर हमले करके उसे काफी नुकसान पहुंचाया। उसी दौर में नाटो के देश और दुनिया के अन्य ताकतवर देश खुलकर यूक्रेन के साथ नहीं आ पा रहे थे, लेकिन जैसे जैसे जंग बढ़ी। अमेरिका और नाटो सदस्यों के साथ कई देशों ने यूक्रेन को हथियारों और आर्थिक मदद की। इस कारण यूक्रेन ने रूस पर काउंटर अटैक करना शुरू कर दिया। रूस द्वारा कब्जा किए गए कई शहरों को वापस छुड़ाकर अपने अपने कब्जे में लेना शुरू कर दिया है। यह जंग जितनी रूस ने सोची थी, उससे काफी ज्यादा बड़ी हो गई है। 

डोनबास जैसे शहरों पर फिर कब्जा कर रहा है यूक्रेन

इसी बीच क्रेमलिन के अंदर से आने का दावा करने वाले चैनल के अनुसार, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और उनके दोस्त यूक्रेन में हारने पर रूस से भागने की तैयारी कर रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार डोनबास के आक्रामक रुख के साथ, यूक्रेन खेरसॉन पर फिर से कब्जा करने की तैयारी कर रहा है और उसकी अर्थव्यवस्था चरमरा रही है।

क्या बीमार हैं पुतिन?

मीडिया रिपोर्ट्स बताती हैं कि पुतिन का स्वास्थ्य भी ठीक नहीं है। 69 वर्षीय पुतिन को रातभर दिक्कतों का सामना करना पड़ा, डॉक्टरों की सलाह के बीच वह बिस्तर पर लगभग तीन घंटे तक रहे। उस रिपोर्ट के बाद इस दावे को बल मिला है कि “पुतिन खुद और उनके दल रूस से भागने की योजना तैयार कर रहे हैं।” ऐसा माना जा रहा है कि पुतिन और उनके परिवार को रूस से बाहर ले जाने वाला कोई भी विमान सीरिया, निकटतम मित्र राष्ट्र ले जा सकता है।

सीरिया जाएंगे तो तुर्की अपने हवाई क्षेत्र से नहीं गुजरने देगा

हालांकि यदि वे सीरिया जाने के लिए तुर्की के हवाई क्षेत्र से गुजरे तो तुर्की ऐसा नहीं होने देगा। क्योंकि तुर्की नाटो का सदस्य है। तुर्की के नेता एर्दोगन और पुतिन के रिश्ते ठीक नहीं है। पिछले एक दशक के दौरान वे कई बार दोस्त तो कई बार दुश्मन बने हैं। हालांकि पिछले दिनों ईरान विजिट के दौरान हो सकता है उन्होंने ईरान के समकक्ष के साथ रूस छोड़ने के बारे में व्यक्तिगततौर पर बात की हो।

Latest World News





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here