UK PM Race: कौन होगा ब्रिटिश पीएम, ऋषि सुनक और ट्रस के बीच प्रधानमंत्री पद की दौड़ अंतिम चरण में


British PM Race- India TV Hindi News
Image Source : AP
British PM Race

Highlights

  • पीएम की रेस में ऋषि सुनक और ट्रस के बीच कांटे का टक्कर
  • 5 सितंबर को पीएम रेस के विजेता की होगी घोषणा

UK PM Race: बोरिस जॉनसन के जगह पर कंजर्वेटिव पार्टी के नेता और ब्रिटेन के प्रधानमंत्री पद के लिए पूर्व वित्त मंत्री ऋषि सुनक और विदेश मंत्री लिज ट्रस के बीच दौड़ शुक्रवार को अंतिम चरण में है जिसमें पार्टी के सदस्य अपने पसंदीदा उम्मीदवार के चुनाव के लिए अंतिम रूप से मतदान करेंगे। सुनक (42) और ट्रस (47) कंजर्वेटिव पार्टी के लगभग 1,60,000 सदस्यों के मत पाने और उन्हें प्रभावित करने के लिए कई बार लाइव डिबेट कर चुके हैं। भारतीय मूल के पूर्व मंत्री ने अपने अभियान में तत्काल प्राथमिकता के रूप में बढ़ती मुद्रास्फीति पर अंकुश लगाने की बात कही है। वहीं, विदेश मंत्री ट्रस ने वादा किया है कि यदि वह प्रधानमंत्री चुनी जाती हैं तो कार्यभार संभालने के पहले दिन से ही करों में कटौती करने का आदेश जारी करेंगी।

Rishi Sunak With his Followers

Image Source : AP

Rishi Sunak With his Followers

सुनक अंतिम दो उम्मीदवार चुनने के लिए पार्टी के सांसदों द्वारा किए गए मतदान में जहां ट्रस से आगे थे, वहीं एक सर्वेक्षण में पार्टी के सदस्यों के मतदान में उनके पिछड़ने की बात कही गई है। हालांकि, सुनक के समर्थकों को उम्मीद है कि सर्वेक्षण सही साबित नहीं होगा क्योंकि 2019 के आम चुनाव में बोरिस जॉनसन भी सर्वेक्षणों के अनुमान के विपरीत देश के प्रधानमंत्री बने थे। प्रधानमंत्री पद की दौड़ के विजेता की घोषणा सोमवार को की जाएगी। 

फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों पर बयान दे कर फंसी ट्रस

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री पद की दौड़ में पूर्व वित्त मंत्री ऋषि सुनक से आगे चल रहीं लिज ट्रस फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों के बारे में दिए गए अपने बयान को लेकर शुक्रवार को विवादों में घिर गयीं। विदेश मंत्री ट्रस ने कहा था कि ‘मैक्रों ब्रिटेन के दोस्त हैं या दुश्मन इस बारे में अभी फैसला होना है।’ ट्रस ने यह भी कहा था कि अगर वह प्रधानमंत्री बनती हैं तो मैक्रों के बारे में कोई भी फैसला उनके काम के आधार पर करेंगी, बयानों के आधार पर नहीं।

‘मैं काम को देखकर फैसला करूंगी’

ट्रस गुरुवार की शाम को पूर्वी इंग्लैंड के नॉरविक में एक कार्यक्रम में पूछे गये सवालों के जवाब दे रही थीं। वहीं दूसरी तरफ इसी सवाल के जवाब में सुनक ने कहा कि फ्रांस के राष्ट्रपति ‘दोस्त’ हैं और वह पहले कह चुके हैं कि अगर वह बोरिस जॉनसन के उत्तराधिकारी बनते हैं तो यूरोप के साथ ब्रिटेन के संबंधों को दुरुस्त करना चाहेंगे। ट्रस से पूछा गया था कि क्या फ्रांसीसी राष्ट्रपति ‘दोस्त हैं या दुश्मन हैं?’ इस पर उन्होंने जवाब दिया था, ‘अभी फैसला नहीं हुआ है। अगर मैं प्रधानमंत्री बनती हूं तो मैं उनके बारे में काम देखकर निर्णय लूंगी, बयानों के आधार पर नहीं।’

Liz Truss And Rishi Sunak

Image Source : INDIATV

Liz Truss And Rishi Sunak

पार्टी के भीतर भी हुई ट्रस की आलोचना

मैक्रों ने आगे कहा, ‘अगर हम फ्रांस और ब्रिटेन के लोगों के बीच यह नहीं कह पा रहे कि हम दोस्त हैं या दुश्मन हैं तो तटस्थ शब्द नहीं बोला जाएगा। तब हम गंभीर समस्या की ओर बढ़ रहे हैं। इसलिए मैं ब्रिटिश लोगों को, ब्रिटेन को मित्रवत, मजबूत और सहयोगी राष्ट्र बोलता हूं, भले ही इसके नेता कोई भी हों।’ ट्रस की पार्टी के सदस्यों ने भी सोशल मीडिया पर उनके बयान की आलोचना की। पूर्व विदेश मंत्री एलिस्टेयर बर्ट ने कहा कि ट्रस ने गंभीर चूक की है और उन्हें अधिक कूटनीतिक रुख रखना चाहिए।

Latest World News





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here