Ukraine war: जेलेंस्की ने देशद्रोही बताकर सिक्योरिटी चीफ और टॉप प्रॉसीक्यूटर को किया बर्खास्त


हाइलाइट्स

जेलेंस्की ने सिक्योरिटी चीफ और टॉप प्रॉसीक्यूटर को किया बर्खास्त
यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने दो ताकतवर संस्थानों के प्रमुखो को देशद्रोही बताया
रूस की यूक्रेन को क्रीमिया पर हमला करने पर गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी

कीव. यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने दो ताकतवर संस्थानों के प्रमुखो को देशद्रोह के कई मामलों का हवाला देते हुए पद से बर्खास्त कर दिया है. यूक्रेन की सुरक्षा एजेंसी ‘एसबीयू’ (Ukraine’s security agency-SBU) के प्रमुख और प्रॉसीक्यूटर जनरल को पद से हटा दिया गया है. बर्खास्त अधिकारियों इवान बाकानोव और इरीना वेनेडिक्टोवा ने इसके बारे में कोई टिप्पणी नहीं की है.

बीबीसी (BBC) की एक खबर के मुताबिक जेलेंस्की ने कहा कि 60 से अधिक पूर्व यूक्रेनी सरकारी कर्मचारी अब रूस के कब्जे वाले क्षेत्रों में यूक्रेन के खिलाफ काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि कानून को लागू करने वाले अधिकारियों के खिलाफ कुल 651 गठजोड़ और देशद्रोह के मामले खोले गए हैं.

रविवार की देर रात अपने वीडियो संबोधन में जेलेंस्की ने कहा कि ‘राज्य की राष्ट्रीय सुरक्षा की नींव के खिलाफ इस तरह के अपराध… दोनों संगठनों के संबंधित प्रमुखों के लिए बहुत गंभीर सवाल हैं.’ यूक्रेन के राष्ट्रपति ने कहा कि ‘इन सवालों में से हर एक का उचित जवाब मिलेगा.’ जेलेंस्की के बचपन के दोस्त और एसबीयू के प्रमुख इवान बाकानोव की बर्खास्तगी क्रीमिया में एसबीयू के एक पूर्व क्षेत्रीय प्रमुख की हाई-प्रोफाइल गिरफ्तारी के बाद हुई है, जिस पर 2014 में रूस ने कब्जा कर लिया था.

इस्लाम को अपने हिसाब से ढालना चाहते हैं जिनपिंग, कहा- चीनी समाज के जैसा हो धर्म

उधर यूक्रेन का दावा है कि काला सागर में बड़ी संख्या में रूसी युद्धपोतों को क्रीमिया (Crimea) से आगे पूर्व में नोवोरोस्सिएस्क (Novorossiysk) बंदरगाह पर ले जाया जा रहा है. ऐसा इसलिए किया जा रहा है क्योंकि कीव को अपने पश्चिमी सहयोगियों से लंबी दूरी के मिसाइल सिस्टम की और डिलीवरी मिली है. जबकि रूस के पूर्व राष्ट्रपति और अब सुरक्षा परिषद के उप प्रमुख दिमित्री मेदवेदेव ने यूक्रेन को क्रीमिया पर हमला करने पर गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी दी है.

Tags: Russia, Russia ukraine war, Ukraine



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here