Ukraine War: रूस का ब्रिटेन पर गंभीर आरोप, क्रीमिया पर ड्रोन हमले में बताया भागीदार


हाइलाइट्स

रूस के कहा कि सेवस्तोपोल पर हमले में 9 हवाई ड्रोन और 7 समुद्री ड्रोन शामिल थे.
रूस ने कहा कि इसके लिए प्रशिक्षण ब्रिटिश विशेषज्ञों की देखरेख में दिया गया.
ब्रिटेन ने अभी तक इन आरोपों का जवाब नहीं दिया है.

मॉस्को. रूस ने क्रीमिया पर ड्रोन हमले के यूक्रेन की कोशिश में ब्रिटेन पर ‘भागीदारी’ होने का आरोप लगाया है. रूस के रक्षा मंत्रालय ने आरोप लगाया कि ब्रिटेन के विशेषज्ञों ने यूक्रेन के विफल हमले के लिए प्रशिक्षण दिया और हमले की निगरानी करने में मदद की. रूस के रक्षा मंत्रालय एक बयान में कहा कि कीव शासन ने काला सागर बेड़े के जहाजों और नागरिक जहाजों के खिलाफ एक आतंकवादी हमला किया, जो सेवस्तोपोल बेस के बाहरी और भीतरी हिस्सों में मौजूद थे. इस हमले में 9 हवाई ड्रोन और 7 समुद्री ड्रोन शामिल थे.

न्यूज एजेंसी एएफपी की एक खबर के मुताबिक रूस के रक्षा मंत्रालय के एक बयान में कहा गया है कि इस आतंकवादी कार्य की तैयारी के लिए सैन्य कर्मियों के प्रशिक्षण को ब्रिटिश विशेषज्ञों की देखरेख में अंजाम दिया गया. बहरहाल ब्रिटेन ने अभी तक इन आरोपों का जवाब नहीं दिया है. रूस ने यह भी आरोप लगाया कि ब्रिटिश नौसेना के प्रतिनिधि 26 सितंबर को नॉर्ड स्ट्रीम 1 और नॉर्ड स्ट्रीम 2 गैस पाइपलाइनों को उड़ाने के लिए बाल्टिक सागर में हमले की साजिश रचने और हमले को अंजाम देने की कोशिश में शामिल थे.

यूक्रेन ने क्रीमिया को बनाया निशाना
क्रीमिया में सेवस्तोपोल को हाल के महीनों में कई बार यूक्रेन ने निशाना बनाया है. ये रूस के समुद्री बेड़े के मुख्यालय और यूक्रेन में संचालन के लिए एक लॉजिस्टिक हब के रूप में कार्य करता है. रूस ने कहा कि उनके क्रीमिया बेस पर जिन जहाजों को निशाना बनाने की कोशिश की गई वे संयुक्त राष्ट्र की मध्यस्थता में हुए समझौते को लागू करने में शामिल है, जिससे यूक्रेन के अनाज के निर्यात को चालू रखा जा सके. जबकि रूस ने हाल ही में इस सौदे की आलोचना करते हुए कहा था कि पश्चिमी प्रतिबंधों के कारण उसके अपने अनाज निर्यात को नुकसान हुआ है.

रूस-यूक्रेन युद्ध: ‘अगर एटमी हमला हुआ तो….’, खुद को बचाने के लिए रूसी नागरिक अपना रहे ऐसा तरीका

अनाज निर्यात समझौते से हटा रूस
क्रीमिया में ड्रोन हमलों का आरोप लगाते रूस ने उस ऐतिहासिक समझौते में अपनी भागीदारी को रोक दिया, जिसमें यूक्रेन से अनाज निर्यात की अनुमति दी गई थी. रूस के इस आरोप के जवाब में यूक्रेन ने कहा कि रूस अनाज निर्यात के गलियारे को बंद करने का बहाना बना रहा है. यूक्रेन के विदेश मंत्री दिमित्रो कुलेबा ने ट्वीट किया कि हमने काला सागर अनाज निर्यात की पहल को बर्बाद करने की रूस की योजनाओं के बारे में चेतावनी दी है. अब मास्को अनाज निर्यात के गलियारे को बंद करने के लिए एक झूठे बहाने का उपयोग कर रहा है.

Tags: Britain, Drone, Drone Attack, Russia, Russia ukraine war, Ukraine



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here