Vladimir Putin: पुतिन ने की पीएम मोदी की तारीफ, बताया बड़ा देशभक्त, जानिए और क्या कहा?


व्लादिमीर पुतिन- India TV Hindi News

Image Source : FILE
व्लादिमीर पुतिन

Vladimir Putin​:  रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने गुरुवार को भारत के प्रधानमंत्री व्लादिमीर पुतिन की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी बड़े देशभक्त हैं। उन्होंने भारत की भी जमकर तारीफ की और कहा कि औपनिवेशिक स्वतंत्रता के बाद भारत ने बहुत प्रगति की है। पीएम मोदी की तारीफ में उन्होंने कहा कि वे एक देशभक्त हैं और अपने देश की स्वतंत्र सोच को आगे बढ़ाने में सक्षम हैं। उन्होंने भारत की तारीफ करते हुए दोनों देशों के संबंधों को बहुआयामी बताया। पुतिन ने कहा कि भारत की एक स्वतंत्र विदेश नीति रही है और रूस के हमेशा से ही खास संबंध रहे हैं।

अपने वे देश के लिए कुछ भी कर सकते हैं मोदी: पुतिन

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने गुरुवार को अपने भाषण में कहा कि पीएम मोदी एक देशभक्त हैं और अपने देश की स्वतंत्र सोच को आगे बढ़ाने में सक्षम हैं। वे अपने देश के लिए कुछ भी कर सकते हैं। पुतिन ने कहा कि वे ऐसी वह शख्सियत हैं, जो अपने लोगों के हित के लिए खुद की स्वतंत्र विदेश नीतियां बना सकते हैं। भारत पर अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंध लगाए जाने की कोशिशों के बावजूद, एक आइस-ब्रेकर की तरह उन्होंने भारत के हित के लिए उसी दिशा में सफर जारी रखा।

स्वर्णिम है भारत का भविष्य, बोले रूसी राष्ट्रपति 

भारत की तारीफ करते हुए रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि भारत ने विकास के मामले में जबरदस्त कामयाबी हासिल की है। भारत का भविष्य स्वर्णिम है। उन्होंने भारत और रूस दोनों देशों के संबंधों के बारे में कहा कि भारत और रूस ने आपसी सहयोग की नींव पर अपने विशेष संबंध स्थापित किए हैं। 

वैश्विक मामलों में बढ़ रही भारत की भूमिका

पुतिन ने कहा कि मोदी दुनिया के उन लोगों में से एक हैं जो अपने देश के हित में स्वतंत्र विदेश नीति का संचालन करने में सक्षम हैं। वह भारत को भारतीय लोगों के लिए आवश्यक दिशा में आगे बढ़ा रहे हैं। भारत की भूमिका वैश्विक मामलों में बढ़ रही है।

‘भारत और रूस ने हमेशा एक-दूसरे का समर्थन किया’

पुतिन ने कहा कि हमारे भारत के साथ खास रिश्ते हैं। हमने हमेशा एक दूसरे का समर्थन किया है। मुझे विश्वास है कि यह भविष्य में भी ऐसा ही रहेगा। प्रधानमंत्री मोदी ने मुझसे उर्वरक की आपूर्ति बढ़ाने की मांग की थी और हमने ऐसा किया भी है। हमने 7.6 गुणा तक इसको बढ़ाया है।

‘पश्चिमी देशों को प्रभुत्व नहीं जमाने देंगे’

इसी बीच पुतिन ने गुरुवार को न्यूक्लियर हथियारों के उपयोग के किसी भी इरादे से इनकार कर दिया है। लेकिन उन्होंने पश्चिमी देश वैश्विक प्रभुत्व को स्थापित रखना चाहते हैं, इसी कारण युद्ध हुआ है। उन्होंने स्पष्ट किया कि वैश्विक प्रभुत्व को बनाने के पश्चिमी देशों की ​कोशिशें नाकाम होंगी। 

यूक्रेन पर परमाणु हथियारों के इस्तेमाल से किया इनकार

पुतिन ने अंतरराष्ट्रीय विदेश नीति विशेषज्ञों के एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए कल बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि वह यूक्रेन पर परमाणु हथियारों का इस्तेमाल नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि रूस के लिए यूक्रेन पर परमाणु हथियारों से हमला करना निरर्थक है। पुतिन ने कहा, ‘हमें इसकी कोई जरूरत नहीं दिख रही है। इसका कोई मतलब नहीं है, न तो राजनीतिक और न ही सैन्य।

Latest World News





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here