फिलीपींस में मेगी तूफान से भारी तबाही, अबतक 58 लोगों की मौत


The bodies of 22 people were reportedly recovered after being buried under a landslide in Philippine- India TV Hindi
Image Source : AP
The bodies of 22 people were reportedly recovered after being buried under a landslide in Philippines

Philippine Storm Megi: फिलीपींस में तूफान मेगी ने तबाही मचा दी है। फिलीपींस के पूर्वी और दक्षिण पूर्वी इलाकों में बीते रविवार से भारी बारिश हो रही है। फिलीपींस के पूर्वी और दक्षिण पूर्वी इलाकों में मेगी तूफान के बाद भारी बारिश से करीब 17 हजार लोगों को घर छोड़कर शेल्टर होम में शरण लेनी पड़ी है। भारी बारिश के कारण पूर्वी समर प्रांत सहित कई क्षेत्रों में भूस्खलन हुआ है। समाचार एजेंसी AFP ने जानकारी दी है कि, आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार फिलीपीन्स में भूस्खलन, बाढ़ से मरने वालों की संख्या 58 हो गई है। 

फिलीपींस के पूर्वी और दक्षिण पूर्वी इलाकों में लैंडस्लाइड की वजह से हुई भारी तबाही के बीच अबतक यहां करीब 58 लोगों की मौत हो गई है जबकि 30 से ज्यादा लोग लापता हैं। वहीं अलग-अलग घटनाओं में करीब 100 से ज्यादा लोग घायल हुए है। मेगी इस साल फिलीपींस से टकराने वाला पहला तूफान है। यहां सालाना करीब 20 तूफान आते हैं। कीचड़ और बारिश के बीच रेस्क्यू टीम ने मंगलवार को सेंट्रल फिलीपींस के गांवों में लैंडस्लाइड के बाद बचे लोगों की तलाश कर रही है। 

यहां के पूर्वी प्रांत लेयते में 22 शव बरामद किए गए हैं। इस प्रांत में बाढ़ की वजह से सड़कें टूट गई हैं। घर और इमारतें पानी में डूब चुकी हैं। यहां के पूर्वी प्रांत लेयते में 22 शव बरामद किए गए हैं। इस प्रांत में बाढ़ की वजह से सड़कें टूट गई हैं। घर और इमारतें पानी में डूब चुकी हैं। बाढ़ की वजह से हुए लैंडस्लाइड में करीब 30 लोग लापता हैं। रेस्क्यू टीम मलबे से लोगों को निकाल रही है। इसमें दबकर सैकड़ों लोग घायल हो चुके हैं। लैंडस्लाइड के बाद यहां खेतीहर जमीन और फसलों को भी काफी नुकसान पहुंचा है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, एक सरकारी आपदा एजेंसी ने कहा कि तूफान ने रविवार सुबह मध्य और दक्षिणी फिलीपींस में 1,36,000 से अधिक लोगों को प्रभावित किया है। बता दें कि, पिछले साल फिलीपींस में आए तूफान ने 400 से अधिक लोगों की जान ले ली थी।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here