मारियुपोल में रूसी सेना ने ड्रोन से बरसाया था जहर, पढ़ें यूक्रेन जंग के 10 अपडेट


कीव. रूस और यूक्रेन जंग का आज 47वां दिन है. जंग में यूक्रेन के कई शहर पूरी तरह बर्बाद हो चुके हैं. मारियुपोल सबसे ज्यादा तबाही झेलने वाले शहरों की फेहरिस्त में शामिल है. इस शहर के मेयर वादिम बॉयचेंको का कहना है कि यहां रूसी हमले की वजह से 10 हजार से ज्यादा नागरिकों की मौत हुई है. रासायनिक हथियारों के प्रयोग की आशंका के बीच यूक्रेनी सेना की एक रेजीमेंट ने दावा किया है कि रूसी सेना ने मारियुपोल में जहर बरसाया था. यह हमला यूक्रेन के सैनिकों पर किया गया. इसके लिए रूसी सेना ने ड्रोन का इस्तेमाल किया और हवा से कुछ जहरीले पदार्थ गिराए, जिसके बाद सांस लेने में समस्या हुई. इस बीच रूस के चेचन्या गणराज्य के प्रमुख ने दावा किया है कि रूस फिर से कीव पर हमला करेगा और उसे अपने कब्जे में लेगा.

दूसरी ओर, यूक्रेन के पूर्वी हिस्से में एक बार फिर नए सिरे से लड़ाई शुरू हो सकती है. न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक, रूस और यूक्रेन दोनों की सेनाएं पूर्वी हिस्से में जुट रही हैं. आने वाले खतरे की आहट को भांपकर हजारों नागरिकों ने इस इलाके को छोड़ दिया है.

इसके साथ ही आइए जानते हैं यूक्रेन जंग के अब तक के 10 अपडेट….

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन कीव का दौरा नहीं करेंगे. उनके प्रवक्ता ने इसकी जानकारी दी.

पोलैंड के पीएम का कहना है कि यूरोपियन यूनियन ने रूस के खिलाफ जो बैन लगाएं हैं वो बहुत कमजोर हैं.

यूक्रेन का कहना है कि उसने पूर्व राष्ट्रपति पेट्रो पोरोशेंको की सरकार में काम करने वाले रूसी एजेंट को हिरासत में लिया है.

यूक्रेन के जनरल स्टाफ का कहना है कि रूसी सैनिकों यूक्रेन में आगे बढ़ने की असफल कर रहे हैं.

रूसी सैनिकों ने जपोरिजिया न्यूक्लियर प्लांट को 18.3 बिलियन का नुकसान पहुंचाया.

फ्रांस ने बड़ा एक्शन लेते हुए रूस के 6 डिप्लोमैट्स को बाहर निकाल दिया है. फ्रांसीसी सरकार का कहना है कि लंबी जांच के बाद वो 6 रूसी एजेंट को निकाल रहा है.

रूस ने बीते रोज खार्किव पर 66 बार हमले किए हैं. इन हमलों में एक बच्चे समेत 11 लोगों की मौत हो गई. वहीं, 14 लोग घायल हो गए.

यूक्रेन की उप प्रधानमंत्री इरीना वीरेश्चुक ने बताया कि रूसी सेना ने 700 से ज्यादा यूक्रेनी सैनिक और एक हजार से ज्यादा आम नागरिकों को कैद करके रखा है.

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने एक बार फिर पश्चिम देशों पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि, हमें हर तरह के हथियारों की जरूरत है. यहां लोगों की जान जा रही है और पश्चिमी देश हथियारों की सप्लाई करने में देरी कर रहे हैं.

बीते रोज मॉस्को दौरे पर पहुंचे ऑस्ट्रियाई चांसलर कार्ल नेहमर ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन से मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने कहा कि जब तक यूक्रेनियन मर रहे हैं तब तक प्रतिबंध बने रहेंगे.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी | आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी |



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here