Pakistan Political Crisis: क्या इमरान खान देंगे इस्तीफा? 2 करीबियों ने अपने ट्विटर बायो में लिखा पूर्व मंत्री


Two close aides of Imran Khan changes their Twitter bio- India TV Hindi
Image Source : SHAH MAHMOOD QURESHI AND FAWAD CHAUDHRY
Two close aides of Imran Khan changes their Twitter bio

Highlights

  • अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग के लिए पाक संसद का अहम सत्र
  • मतदान से पहले इमरान के मंत्रियों ने पद के आगे लिखा पूर्व
  • स्पीकर ने इमरान के खिलाफ वोटिंग कराने से किया इनकार

इस्लामाबाद: पाकिस्तान में शनिवार को प्रधानमंत्री इमरान खान के खिलाफ महत्वपूर्ण अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान करने के लिए संसद का अहम सत्र चल रहा है। पाकिस्तान नेशनल असेंबली में सत्ता पक्ष और विपक्ष में जोरदार बहस के बीच इमरान खान के दो करीबी नेताओं ने अपने ट्विटर बायो में अपने पद के आगे पूर्व मंत्री लिख लिया है। ऐसे में यह सवाल उठने लगा कि क्या इमरान खान इस्तीफा देंगे। हालांकि कैबिनेट के साथ आपात मीटिंग में इमरान ने साफ कर दिया कि वह इस्तीफा नहीं देगे और ‘आखिरी गेंद’ तक मुकाबला करेंगे।

दरअसल, पाकिस्तान के सूचना एवं प्रसारण मंत्री चौधरी फवाद हुसैन ने पीएम इमरान खान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान से पहले ही अपने ट्विटर अकाउंट का बायो पूर्व I & B मंत्री कर लिया है। फवाद चौधरी के बाद शाह महमूद कुरैशी ने भी अपना ट्विटर बायो बदल दिया है। शाह महमूद कुरैशी ने ट्विटर पर खुद को पूर्व विदेश मंत्री बताया है। 

Fawad Hussain changes his Twitter bio

Image Source : TWITTER/FAWADCHOUDHARY

Fawad Hussain changes his Twitter bio

इस बीच, नेशनल असेंबली में स्पीकर असद कैसर ने इमरान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग कराने से इनकार कर दिया है। स्पीकर ने कहा कि मैं अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग कराकर इमरान खान के साथ थोखा नहीं कर सकता। इसके बाद सबसे बड़ा सवाल अभी भी यही बना हुआ है कि इमरान खान आज ही इस्तीफा देंगे या पाकिस्तान का सियासी संकट अभी और खिंचने की ओर बढ़ रहा है?

Shah Mahmood Qureshi changes Twitter bio

Image Source : TWITTER/SMQURESHIPTI

Shah Mahmood Qureshi changes Twitter bio


  

बता दें कि पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने एक ऐतिहासिक फैसले में डिप्टी स्पीकर के फैसले को खारिज कर दिया था। बता दें कि प्रधानमंत्री खान को पद से हटाने के लिए विपक्षी दलों को 342 सदस्यीय सदन में 172 सदस्यों के समर्थन की जररूत है। विपक्षी दलों का दावा है कि उन्होंने क्रिकेटर से नेता बने खान की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) पार्टी के असंतुष्टों और सत्तारूढ़ गठबंधन के कुछ सहयोगियों की मदद से जरूरत से ज्यादा समर्थन हासिल कर लिया है।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here