तालिबान का एक और फरमान, महिलाओं के जिम जाने पर रोक, बताया ‘मजबूरन’ क्यों लेना पड़ा ये फैसला


तालिबान ने महिलाओं के जिम जाने पर लगाया प्रतिबंध- India TV Hindi News

Image Source : AP
तालिबान ने महिलाओं के जिम जाने पर लगाया प्रतिबंध

अफगानिस्तान में जब से तालिबान का शासन वापस आया है, तभी से महिलाओं और लड़कियों के अधिकारों को पैरों तले रौंदा जा रहा है। जिसके चलते वो शिक्षा, नौकरी से लेकर सार्वजनिक तौर पर मिलने वाले अधिकारों से भी वंचित हो रही हैं। तालिबान शासन ने अब एक और नया फरमान सुना दिया है। जिसके तहत महिलाएं जिम तक नहीं जा सकतीं। अफगानिस्तान में महिलाओं के जिम जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। एक अधिकारी ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी है। 

तालिबान के एक साल से अधिक समय पहले सत्ता संभालने के बाद से महिलाओं के अधिकारों और स्वतंत्रता पर नकेल कसने का यह नवीनतम फरमान है। तालिबान पिछले साल अगस्त 2021 में सत्ता पर काबिज हुआ था। उसने देश में माध्यमिक और उच्चतर विद्यालय जाने पर लड़कियों पर प्रतिबंध लगा दिया है, महिलाओं को रोजगार के ज्यादातर क्षेत्रों में प्रतिबंधित कर दिया है और महिलाओं को सार्वजनिक स्थानों पर सिर से लेकर पैर तक बुर्के में ढके रहने का आदेश दिया था।

आदेश के पीछे का कारण बताया

धार्मिक मामलों के मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि प्रतिबंध लगाया जा रहा है क्योंकि लोग आदेशों की अनदेखी कर रहे थे और महिलाओं ने हिजाब पहनने संबंधी नियमों का पालन नहीं किया। महिलाओं के पार्क में जाने पर भी पाबंदी है। महिलाओं के जिम और पार्क में जाने पर प्रतिबंध इसी हफ्ते से लागू हो गया है। प्रवक्ता ने कहा, ‘‘लेकिन, दुर्भाग्य से, आदेशों का पालन नहीं किया गया और नियमों का उल्लंघन किया गया और हमें महिलाओं के लिए पार्क और जिम बंद करने पड़े।’’

महिलाओं ने नहीं पहना था हिजाब

उन्होंने कहा, ‘‘ज्यादातर मौकों पर हमने पुरुषों और महिलाओं, दोनों को एक साथ कई पार्क में देखा है और दुर्भाग्य से उन्होंने हिजाब नहीं पहन रखा था। इसलिए हमें एक और निर्णय लेना पड़ा और हमने सभी पार्क और जिम को महिलाओं के लिए बंद करने का आदेश दिया।’’ इस बीच अफगानिस्तान में महिलाओं के लिए संयुक्त राष्ट्र की विशेष प्रतिनिधि एलिसन डेविडियन ने इस प्रतिबंध की निंदा की। उन्होंने कहा, ‘‘यह तालिबान द्वारा सार्वजनिक जीवन से महिलाओं की भागीदारी समाप्त करने का एक और उदाहरण है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम तालिबान से महिलाओं और लड़कियों के सभी अधिकारों और स्वतंत्रता को बहाल करने का आह्वान करते हैं।’’

Latest World News





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here