यूक्रेन पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत ने की रूस के खिलाफ वोटिंग, जानें पूरा मामला


हाइलाइट्स

रूस के खिलाफ भारत ने यूएन सुरक्षा परिषद में पहली बार वोटिंग की है.
यूक्रेन की स्वतंत्रता की 31वीं वर्षगांठ पर यूएन द्वारा समीक्षा बैठक की गई थी.
रूस के प्रति भारत के रूख को लेकर कई देश पहले आलोचना कर चुके हैं.

वॉशिंगटन. संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा यूक्रेन की स्वतंत्रता की 31वीं वर्षगांठ पर छह महीने से जारी युद्ध की समीक्षा के लिए बुधवार को बैठक आयोजित की गई. जैसे ही बैठक शुरू हुई, रूस के राजदूत वासिली ए नेबेंजिया ने वीडियो टेली-कॉन्फ्रेंस द्वारा बैठक में जेलेंस्की की भागीदारी के संबंध में एक प्रक्रियात्मक वोट कराने का अनुरोध किया. इस दौरान भारत ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में यूक्रेन पर एक ‘‘प्रक्रियात्मक मतदान’’ के दौरान रूस के खिलाफ बुधवार को पहली बार मतदान किया. बता दें कि रूस के प्रति भारत के रूख को लेकर अमेरिका सहित कई देशों ने विरोध किया. वहीं रूस से भारत द्वारा तेल खरीदने के फैसले को लेकर भी आलोचना की गई.

साथ ही संयुक्त राष्ट्र की 15 सदस्यीय सुरक्षा परिषद ने यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की को इस दौरान वीडियो-टेलीकॉन्फ्रेंस के जरिए बैठक को संबोधित करने के लिए आमंत्रित किया. बता दें कि फरवरी के महीने से ही रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध जारी है. इसके बाद से पहली बार भारत ने यूक्रेन के मामले में रूस के खिलाफ पहली बार मतदान किया है. हालांकि अभी तक भारत संयुक्त राष्ट्र यूएन सुरक्षा परिषद में यूक्रेन के मामले से बचता रहा है, जिससे अमेरिका समेत पश्चिम देश नाखुश हैं. यूक्रेन पर हमले के बाद पश्चिमी देशों ने रूस पर कड़े आर्थिक एवं अन्य प्रतिबंध लगाए हैं. भारत ने यूक्रेन के खिलाफ रूस के हमले की निंदा नहीं की है.

भारत ने रूस और यूक्रेन से कूटनीति एवं बातचीत के रास्ते पर लौटने की कई बार अपील की है और दोनों देशों के बीच संघर्ष समाप्त करने के सभी कूटनीतिक प्रयासों में सहयोग व्यक्त किया है. भारत दो साल के लिए यूएनएससी का अस्थायी सदस्य है. उसका कार्यकाल दिसंबर में समाप्त होगा. इसके बाद इसके पक्ष में 13 सदस्यों ने वोट किया, जबकि रूस से इस निमंत्रण के खिलाफ मत दिया और चीन ने वोट नहीं दिया. बता दें कि जैसे ही बैठक शुरू हुई, संयुक्त राष्ट्र में रूसी राजदूत वसीली ए नेबेंजिया ने वीडियो टेली-कॉन्फ्रेंस द्वारा बैठक में यूक्रेनी राष्ट्रपति की भागीदारी के संबंध में एक प्रक्रियात्मक वोट का अनुरोध किया.

Tags: Russia ukraine war, United Nations Security Council



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here