China Nepal Relation : नेपाल की तारीफ में जुटे चीन के राष्ट्रपति जिनपिंग, कहा-चुनाव कराना सही कदम


Xi Jinping, China's President - India TV Hindi
Image Source : AP/FILE
Xi Jinping, China’s President 

Highlights

  • जिनपिंग ने नेपाल के पीएम शेर बहादुर देउबा को दी बधाई
  • जिनपिंग ने नेपाल में चुनाव को बताया सही कदम

China Nepal Relation : चीन (China) के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Xi jinping) ने स्थानीय चुनाव कराने के लिए नेपाल (Nepal) के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा को बधाई दी और कहा कि लोगों द्वारा जन प्रतिनिधियों का चुनाव किए जाने की प्रक्रिया अच्छा कदम है। नेपाल में चीन के राजदूत होउ यांक्वी ने बुधवार को यहां नेपाल के गृह मंत्री बालकृष्ण खंड से मुलाकात के दौरान शी का यह संदेश दिया।

 गृह मंत्रालय में प्रेस समन्वयक मधुसूदन भट्टराई ने बताया कि होउ ने यहां सिंह दरबार सचिवालय में खंड के कार्यालय में उनसे मुलाकात की। होउ ने देश में हाल में हुए स्थानीय स्तर के चुनावों की सराहना की, जो मुख्य रूप से शांतिपूर्ण आयोजित हुए और इस दौरान 65 प्रतिशत मतदान हुआ। होउ ने कहा, ‘‘चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने कहा है कि लोगों द्वारा जनप्रतिनिधियों को चुने जाने की प्रक्रिया अच्छा कदम थी और उन्होंने इस कार्य को पूरा करने के लिए प्रधानमंत्री (शेर बहादुर) देउबा को बधाई दी।’’ 

नेपाल ने चीन के समर्थन के लिए दिया धन्यवाद

चीनी राजदूत ने कहा कि उन्होंने विभिन्न मतदान केंद्रों का दौरा किया और उन्हें लोगों की उत्साह के साथ चुनाव में भागीदारी को देखकर खुशी हुई। प्रवक्ता ने कहा, ‘‘गृह मंत्री खंड ने शांति, स्थिरता, विकास और समृद्धि के लिए चीन सरकार और लोगों द्वारा मिलने वाले निरंतर समर्थन के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने भविष्य में भी शांति, स्थिरता, विकास और समृद्धि के लिए सहयोग जारी रहने का विश्वास व्यक्त किया।’’ होउ ने बैठक के दौरान कहा कि 30 मई से काठमांडू और दक्षिण-पूर्व चीन में कुनमिंग के बीच सीधी उड़ान की तैयारी की जा रही है। 

नेपाल ने हाल के दिनों में चीन के साथ अपना संपर्क बढ़ाया

चीन ने हालिया वर्षों में चीन के साथ अपना संपर्क बढ़ाया है। नेपाल में चीन का प्रभाव और निवेश खासकर पूर्व प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली के कार्यकाल में काफी बढ़ा। चीन प्रधानमंत्री देउबा की नियुक्ति के बाद हालिया महीनों से मुख्य रूप से शांत है। देउबा भारत के साथ घनिष्ठ संबंधों के साथ कूटनीतिक रूप से संतुलित विदेश नीति के समर्थक हैं। वह पिछले साल सत्ता में आए थे।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here