कीव में 900 से अधिक लाशें मिलने से हड़कंप, मारियुपोल में 21 हजार लोगों की मौत


ल्वीव. रूसी सेना की वापसी के बाद कीव इलाके में 900 से अधिक नागरिकों के शव बरामद किये गये हैं. क्षेत्रीय पुलिस प्रमुख ने शुक्रवार को पत्रकार वार्ता में यह जानकारी दी. कीव में क्षेत्रीय पुलिस बल के प्रमुख एंड्रीय नेबितोव ने कहा कि इन शवों को सड़कों पर खुला छोड़ दिया गया था या फिर इन्हें अस्थायी रूप से दफनाया दिया गया था. पुलिस ने बताया कि आंकड़े इस बात की ओर संकेत कर रहे हैं कि 95 प्रतिशत गोली लगने के कारण हुई.

एंड्रीय ने कहा, “हम समझते हैं कि रूसी कब्जे के दौरान सड़कों पर लोगों की हत्याएं की गईं. उन्होंने कहा कि मारे गये नागरिकों के बरामद शवों की संख्या 900 को पार कर गई है, जिन्हें फोरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है.” उन्होंने कहा कि मलबे के नीचे और सामूहिक कब्रों में हर दिन शव मिल रहे हैं. बुचा में लोग सबसे ज्यादा पीड़ित हुए, जहां 350 से अधिक शव मिले हैं. एंड्रीय कहा कि रूसी सेना उन लोगों को ढूंढ़ रही थी जिन्होंने यूक्रेन समर्थक मजबूत विचारों को व्यक्त किया.

रूसी सैनिकों ने मारियुपोल में शवों को दफनाने से रोका
इस बीच, मारियुपोल शहर परिषद ने शुक्रवार को कहा कि स्थानीय निवासियों के अनुसार रूसी सैनिक आवासीय परिसरों में पहले दफनाये गये शवों को बाहर निकाल रहे हैं और मॉस्को की सेना के हाथों मारे गये लोगों को अब दफनाने नहीं दे रहे. टेलीग्राम पर जारी एक संदेश के अनुसार, “हर परिसर में एक पहरेदार तैनात किया गया है जो मारियुपोल के निवासियों को उनके मृत रिश्तेदारों या दोस्तों को सुपुर्दे खाक नहीं करने दे रहे. दफनाये जा चुके शवों को क्यों निकाला जा रहा है और उन्हें कहां ले जाया जाएगा, पता नहीं है.”

मारियुपोल में करीब 21,000 लोगों की मौत
मारियुपोल के मेयर वादिम बायचेंको ने ‘द एसोसिएटेड प्रेस’ को बताया कि मारियुपोल में कम से कम 21,000 लोगों की मौत हो गई है और कई शव ‘गलियों में बिछे पड़े’ हैं. उन्होंने दावा किया कि रूसी बलों ने दाह संस्कार के लिए गतिशील उपकरण तैनात किए हैं, ताकि नरसंहार के साक्ष्यों को छुपाने के लिए पीड़ितों के शवों का व्यवस्थित तरीके से निपटान किया जा सके और अंतरराष्ट्रीय संगठन को ‘रूसी सेना द्वारा की गई भयावहता’ के प्रमाण नहीं मिल सकें.

वहीं, रूसी सैनिकों ने उत्तर-पूर्वी शहर खारकीव के पास यूक्रेनी गांव बोरोवाया में आम नागरिकों को लेकर जा रही बसों पर गोली चलाईं जिसमें सात लोगों की मौत हो गयी और 27 घायल हो गये. क्षेत्रीय अभियोजक कार्यालय के प्रवक्ता ने यूक्रेन की सस्प्लाइन समाचार वेबसाइट को शुक्रवार को यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि यूक्रेन की कानून प्रवर्तन एजेंसियां हमले की परिस्थितियों का पता लगाने का प्रयास कर रही हैं. इन दावों की पुष्टि नहीं हो सकी है.

Tags: Russia, Ukraine



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here