उत्तर कोरिया परमाणु हमले के लिए है तैयार, किम जोंग ने अमेरिका को फिर धमकाया


  • परमाणु कार्यक्रम की वजह से उत्तर कोरिया कड़े प्रतिबंधों का सामना कर रहा है
  • डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग उन के बीच हुई ऐतिहासिक वार्ता भी विफल रही थी

प्योंगयांग. उत्तर कोरिया ने एक बार फिर अमेरिका और दक्षिण कोरिया (South Korea) को परमाणु हमले की धमकी दी है. उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन (Korean leader Kim Jong Un) ने परमाणु बम के दम पर अमेरिका की सेना को देश के खिलाफ साजिश न करने की सलाह दी है.

किम जोंग उन का यह बयान कोरियाई युद्धविराम की 69 वीं वर्षगांठ के एक कार्यक्रम के दौरान आया है. देश की आधिकारिक केसीएनए समाचार एजेंसी के अनुसार 27 जुलाई को युद्धविराम की वर्षगांठ के मौके पर किम ने कहा कि अब उनकी सेना अमेरिकी हमले के दौरान कहीं भी परमाणु बम को ले जा सकती है.

किम ने आगे कहा कि दक्षिण कोरिया दोनों देशों को युद्ध की कगार पर धकेल रहा है. आपको बता दें कि युद्धविराम के बावजूद अभी भी दोनों देश कागजी तौर पर युद्ध में हैं. हालांकि अब दोनों ओर से कोई हिंसा नहीं हो रही है.

अमेरिका की वजह से बनाया परमाणु हथियार
किम जोंग उन ने अपने परमाणु बम को अमेरिका द्वारा दी जाने वाली धमकियों का एक उपाय बताया है. उन्होंने बताया कि 1950-53 के युद्ध के बाद से संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ टकराव ने परमाणु कार्यक्रम को जन्म दिया. उत्तर कोरिया को अपनी आत्मरक्षा के लिए न्यूक्लियर डेटरेंस पर काम करना पड़ा.

तानाशाह ने अमेरिका को चेतावनी देते हुए दोहराया कि देश के सशस्त्र बल किसी भी संकट का जवाब देने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं.

उत्तर कोरिया की यह धमकी तब सामने आई है जब सियोल और वाशिंगटन के अधिकारियों ने कहा कि प्योंगयांग ने 2017 के बाद से अपना पहला परमाणु परीक्षण करने की तैयारी पूरी कर ली है.

दोनों देशों में बात कई बार हुई विफल
दरअसल उत्तर कोरिया ने कई बार यह आरोप लगाए है कि अमेरिका ने उसके प्रति दोहरा मापदंड अपनाया है. दोनों देशों के मध्य परमाणु कार्यक्रम को ख़त्म करने और प्रतिबंधों में राहत देने के लिए कई बार वार्ता हुई है. उत्तर कोरिया के अनुसार अमेरिका के रुख की वजह से हर बार वार्ता विफल हुई है.

Tags: Kim Jong Un, North Korea



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here