यूरोपीय संघ के सदस्य देशों के पास हथियारों की भारी कमी, EU के शीर्ष राजनयिक ने जताई चिंता


हाइलाइट्स

यूरोपीय देश यूक्रेन को लगातार सैन्य हथियार की सप्लाई कर रहे हैं.
शीर्ष राजनयिक ने सैन्य हथियार पर सोच समझ कर खर्च का आग्रह किया है.

ब्रसेल्स. यूरोपीय संघ (ईयू) के एक शीर्ष राजनयिक ने सोमवार को आगाह किया कि संगठन के देशों में हथियारों का भंडार कम होने लगा है क्योंकि सदस्य यूक्रेन को हथियार और गोला-बारूद की आपूर्ति कर रहे हैं. इसके साथ ही राजनयिक ने ईयू के सदस्यों से सैन्य साजोसामान पर अपने खर्च को बेहतर ढंग से समन्वित करने का आग्रह किया. यूरोपीय संघ की विदेश नीति के प्रमुख जोसेप बोरेल ने यूरोपीय सांसदों के साथ एक बहस में कहा, ‘अधिकतर सदस्य देशों के सैन्य स्टॉक, मैं यह नहीं कहूंगा कि समाप्त हो गए हैं, लेकिन काफी कम हो गए हैं, क्योंकि हम यूक्रेन के लोगों को बहुत अधिक क्षमता प्रदान कर रहे हैं.’

उन्होंने कहा कि सैन्य साजोसामान की संख्या फिर से बढ़ानी होगी और इसका सबसे अच्छा तरीका मिल कर ऐसा करना रहेगा जो किफायती भी हो.

पिछले हफ्ते चेक गणराज्य में एक बैठक के दौरान, यूरोपीय संघ के रक्षा मंत्रियों ने सैन्य सामग्री और संसाधनों को लेकर चर्चा की थी इसके साथ उन्होंने गोला-बारूद और वायु रक्षा प्रणालियों जैसे हथियारों की थोक खरीद पर भी चर्चा की थी जिनकी अभी यूक्रेन को आवश्यकता है. यूरोपीय संघ यूरोप मे स्थित 27 देशों का राजनीतिक और आर्थिक मंच है.

Tags: European union, Russia ukraine war



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here