सोमालिया में भीषण कार बम धमाकों में कम से कम 100 लोगों की मौत,राष्ट्रपति ने हमले को बताया कायरतापूर्ण


सोमालिया में कार बम धमाका- India TV Hindi News

Image Source : AP
सोमालिया में कार बम धमाका

Car Bomb Blasts in Somalia:सोमालिया में कल का दिन काला शनिवार साबित हुआ। सोमालिया की राजधानी मोगादिशु में हुए भीषण कार बमों के विस्फोट में 100 से अधिक लोगों की जान चली गई और सैकड़ों लोग घायल हो गए। यह हमला राजधानी में बेहद भीड़-भाड़ वाले इलाके में किया गया। इससे लोगों के चीथड़े उड़ गए। हमले में जान गवांने वालों में बच्चे, बुजुर्ग और युवा शामिल हैं। हमला इतना घातक था कि आसपास बने मकानों और दुकानों के खिड़कियों और दरवाजों के भी परखच्चे उड़ गए। कांच के शीशे टूट गए। पास खड़े कई दूसरे वाहन भी धुआं हो गए। लोगों के शव दूर-दूर जाकर गिरे। हमले में घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनमें से काफी लोगों की हालत अति गंभीर बनी है। ऐसे में मौतों का आंकड़ा अभी और भी बढ़ सकता है।

सोमालिया के राष्ट्रपति ने रविवार को कहा कि शनिवार को राजधानी मोगादिशु में हुए दो कार बम धमाकों में कम से कम 100 लोगों की मौत हो गई है और मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका है। राष्ट्रपति हसन शेख मोहम्मद ने रविवार तड़के एक घटनास्थल पर पत्रकारों से कहा कि धमाकों में लगभग 300 लोग घायल हुए हैं। उन्होंने इन हमलों को ‘बेहद क्रूर और कायरतापूर्ण’ कृत्य करार दिया। फिलहाल किसी समूह ने इन हमलों की जिम्मेदारी नहीं ली है।

सोमालिया सरकार को अलकायदा पर शक


सोमालिया सरकार ने इन हमलों के लिए अल-कायदा से जुड़े अल-शबाब आतंकवादी समूह को जिम्मेदार ठहराया है, जो राजधानी में अक्सर हमले करता रहा है। मोगादिशु में ये हमले उस दिन हुए, जब राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और अन्य वरिष्ठ अधिकारी अल-शबाब सहित अन्य आतंकवादी समूहों से निपटने के विस्तारित प्रयासों पर चर्चा करने के लिए बैठक कर रहे थे। अधिकारियों ने बताया कि पहला धमाका शिक्षा मंत्रालय की चारदीवारी के बाहर हुआ, जबकि दूसरे विस्फोट में एक व्यस्त रेस्तरां को निशाना बनाया गया।

एंबुलेंस भी हो गई क्षतिग्रस्त

एम्बुलेंस सेवा के निदेशक अब्दुलकादिर अदन ने एक ट्वीट में कहा, “पहले हमले में घायल लोगों की मदद करने वाली एक एम्बुलेंस भी दूसरे विस्फोट से नष्ट हो गई।” एक प्रत्यक्षदर्शी अब्दिरजाक हसन ने कहा, “जब दूसरा धमाका हुआ, तब मैं 100 मीटर दूर था। मैं जमीन पर पड़े शवों की गिनती नहीं कर सका।” अक्टूबर 2017 में इसी जगह हुए ट्रक बम धमाके में 500 लोगों की मौत हो गई थी। उस हमले के बाद से यह क्षेत्र में सबसे घातक हमला है। इससे लोगों में दहशत फैल गई है। हमले के बाद चारों तरफ अफरातफरी मच गई। स्थानीय सुरक्षा बलों ने लोगों की मदद से घायलों को अस्पताल पहुंचाया। मृतकों के परिवारजानों में चीख-पुकार मच गई।

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Around the world News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here